#बड़ी खबर: बैंक खातों से राशनकार्ड से जोड़ने की आखिरी तिथि हुई जारी….

राज्य खाद्य योजना के साथ अंत्योदय योजना के कार्डधारकों का बैंक एकाउंट नंबर राशनकार्ड के साथ लिंक करने के लिए कवायद तेज हो गई है। प्रमुख सचिव खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति ने जिलाधिकारियों को 30 सितंबर तक दोनों योजनाओं के अंतर्गत सभी बैंक एकाउंट नंबर को राशनकार्ड के साथ लिंक करने के निर्देश दिए हैं।#बड़ी खबर: बैंक खातों से राशनकार्ड से जोड़ने की आखिरी तिथि हुई जारी....Shocking: एक साथ 12 बंदरों का पड़ा हार्ट अटैक हुई मौत, जानिए क्यों!

इसके बाद केंद्र सरकार को सब्सिडी स्वीकृत करने का प्रस्ताव भेजा जाएगा। छह सितंबर को आयोजित कैबिनेट मीटिंग में राज्य खाद्य योजना के तहत दिए जाने वाली राशन और अंत्योदय योजना के कार्डधारकों को मिलने वाली चीनी के मूल्य के बराबर धनराशि नवंबर से कार्डधारकों के खाते में डालने के प्रस्ताव को हरी झंडी दे दी गई।

राज्य खाद्य योजना के तहत प्रत्येक राशनकार्ड पर 8.60 रुपये प्रतिकिलो की दर से पांच किलो गेहूं और 15 रुपये प्रतिकिलो की दर से 10 किलो चावल दिया जाता है। इस योजना के तहत लगभग 11 लाख कार्डधारक हैं।

राज्य खाद्य योजना के तहत कार्डधारकों को चावल और गेहूं उपलब्ध कराने पर प्रदेश सरकार 7.89 करोड़ रुपये प्रति माह अतिरिक्त खर्च करती है। वहीं, अंत्योदय योजना के कार्डधारकों को प्रतिमाह 13.50 रुपये प्रति किलो की दर से एक किलो चीनी उपलब्ध कराई जाती है। इसके लिए प्रदेश सरकार 32 रुपये प्रति किलो की दर से चीनी की खरीद करती है।

18.50 रुपये प्रति किलो की सब्सिडी का वहन केंद्र सरकार द्वारा किया जाता है। अंत्योदय योजना के कार्डधारकों को नवंबर से चीनी के मूल्य के बराबर की राशि उसके खाते में डाली जाएगी। अंत्योदय योजना के प्रदेश में लगभग 1.84 लाख कार्ड हैं।

खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति विभाग के प्रमुख सचिव आनंद बर्द्धन ने सभी जिलाधिकारियों को निर्देश दिया है कि 30 सितंबर तक इन दोनों योजनाओं के कार्डधारकों का बैैंक एकाउंट नंबर राशन कार्ड के साथ लिंक कर दिया जाए। 

loading...

You May Also Like

English News