बड़ी खबर: यात्रियों की असुविधा को देखते हुए दिल्ली मेट्रो ने लिया ये बड़ा फैसला…

दिल्ली मेट्रो ने यात्रियों की असुविधा को देखते हुए एक नई व्यवस्था शुरू करने की फैसला किया है। इससे मेट्रो स्टेशन पर प्रवेश और निकासी के समय स्मार्ट कार्ड या टोकन टच करने के बाद गेट खुलने या बंद होने की पेरशानी से यात्रियों को राहत मिलेगी।बड़ी खबर: यात्रियों की असुविधा को देखते हुए दिल्ली मेट्रो ने लिया ये बड़ा फैसला...PM मोदी ने दिवाली मिलन समारोह में पत्रकारों को किया संबोधित, खिंचवाई सेल्फी

मेट्रो प्रशासन ने मेट्रो स्टेशनों पर ओपन गेट सिस्टम शुरू करने का फैसला लिया है जिसके बाद ऑटोमैटिक फेयर कलेक्शन (AFC) गेट से यात्रियों के बाहर निकलने और अंदर आने में लगने वाले समय को आधा किया जा सकेगा।

मेट्रो प्रशासन का दावा है कि वर्तमान व्यवस्था में प्रति गेट से एक मिनट में निकलने वाले यात्रियों की संख्या 10-15 होती है जबकि, ओपन गेट सिस्टम व्यवस्था लागू होने के बाद एक मिनट में 20-25 यात्री बाहर निकल सकेंगे। यानि इस व्यवस्था से यात्रियों की प्रवेश और निकासी में 65 फिसदी तक की बढ़ोत्तरी होगी।

क्यों लाना पड़ा ये सिस्टम

बता दें कि फिलहाल सभी मेट्रो स्टेशनों पर प्रवेश और निकासी के समय यात्रियों को एएफसी गेट पर अपने टोकन और स्मार्ट कार्ड को टच करना पड़ता है जिसके बाद ही एएफसी गेट खुलता औ बंद होता है।

ओपन गेट सिस्टम लागू होने के बाद ये गेट पूरी तरह खुले रहेंगे और यात्री अपना टोकन या कार्ड टच करके आसानी से अंदर या बाहर जा सकेंगे। हालांकि जैसे ही कोई यात्री अपना कार्ड या टोकन टच किए बिना निकलने की कोशिश करेगा गेट अपने आप बंद हो जाएगा।

असल में पीक आवर्स के दौरान मेट्रो स्टेशन पर कार्ड या टोकन के इस्तेमाल के बाद गेट खुलने या बंद होने में लगने वाले समय के चलते भीड़ जमा हो जाना आम समस्या है जिससे बचने के लिए मेट्रो प्रशासन ने ओपन गेट सिस्टम शुरू करने का फैसला लिया है।    

loading...

You May Also Like

English News