बड़ी खबर: सरकार ने सेना में स्मार्टफोन और इंटरनेट पर लगया बैन

नई दिल्ली : एक के बाद एक वायरल हो रहे शिकायत वाले वीडियो से सरकार हिल गई है। गृह मंत्रालय ने अर्धसैनिक बलों के जवानों के सोशल मीडिया पर वीडियो और निजी तस्वीरें डालने पर रोक लगा दी है।

बड़ी खबर: सरकार ने सेना में स्मार्टफोन और इंटरनेट पर लगया बैन

वहीं, सूत्रों के मुताबिक, सेना की कई यूनिट में भी स्मार्टफोन पर रोक लगा दी गई है।

अभी-अभी: मोदी सरकार ने अब ज्यादा कैश निकालने पर दिया बड़ा झटका

अर्धसैनिक बलों के लिए सोशल मीडिया बैन
दरअसल जवानों को सोशल मीडिया के इस्तेमाल में एहितयात बरतने के लिए गृह मंत्रालय ने आदेश जारी किया है। ताकि देश की सुरक्षा और जवानों के मनोबल पर कोई असर न हो। गृह मंत्रालय ने कहा है कि अर्धसैनिक बलों के जवानों को सोशल मीडिया इस्तेमाल करने से पहले डीजी से इजाजत लेनी होगी।
 
जवानों की शिक़ायतों का हो निपटारा- सरकार
वहीं सरकार ने जवानों की शिक़ायत के निपटारे के लिए बने सेल की जानकारी को जवानों तक पहुंचाने के लिए भी सभी प्रामिलिट्री फ़ोर्स को निर्देश दे दिए हैं। शिकायतों की निष्पक्ष जांच के बाद उन्हें तत्काल निपटाया जाएगा।
सेना में स्मार्टफोन पर पाबंदी- सूत्र
सूत्रों के मुताबिक, सेना में भी कई यूनिट्स में स्मार्ट फोन पर पाबंदी लगा दी गई है। सरकार ने कहा है कि जवानों को इसका कड़ाई से पालन करना होगा। इस आदेश के बाद जवान तस्वीरें खींचकर ट्विटर, फेसबुक, व्हाट्सएप्प, यूट्यूब या इंस्टाग्राम पर नहीं डाल सकते. हालांकि यह नियम पहले से था कि ड्यूटी के समय आप मोबाइल का इस्तेमाल नहीं कर सकते। अब इस नियम को कड़ाई के साथ लागू किया जाएगा।
 
गृह मंत्रालय ने क्यों लिया यह फैसला
बता दें कि पिछले कई दिनों से सेना की जवानों ने सोशल मीडिया पर वीडियो जारी कर अधिकारियों और सुविधाओं को लेकर शिकायत की है। इनमें सबसे पहले बीएसएफ के जवान तेज बहादुर ने खराब खाना मिलने, सीआरपीएफ के जवान जीत सिंह ने सुविधाएं न मिलने, एसएसबी के एक जवान ने अधिकारियों पर तेल और राशन बेचने और सेना के जवान युग प्रताप सिंह ने घरों में अफसरों की तरफ से निजी कार्य कराने जैसे आरोप लगाए हैं।

You May Also Like

English News