#बड़ी खबर: सेना भर्ती के नियमों में किया गया एक और बड़ा बदलाव, अब सबसे पहले होगा ये टेस्ट

भारतीय सेना में भर्ती के नियमों में एक बार फिर से बड़ा बदलाव किया गया है। अब युवाओं को सेना की नौकरी पाने के लिए ये शर्त भी पूरी करनी होगी। #बड़ी खबर: सेना भर्ती के नियमों में किया गया एक और बड़ा बदलाव, अब सबसे पहले होगा ये टेस्ट

#बड़ी खबर: CM योगी ने जारी किया श्वेत पत्र, सपा-बसपा पर लगाए गंभीर आरोप…

दरअसल, भर्ती रैलियों में उमड़ने वाली युवाओं की भीड़ को मैनेज करने और इसकी वजह से भर्ती कार्यालयों के बढ़े कार्यभार को कम करने के लिए सेना नई व्यवस्था बना रही है। 

इसके अंतर्गत आवेदकों का पहले ऑनलाइन टेस्ट होगा, जो आवेदक उसेे पास कर लेंगे उनको  ही सेना भर्ती की अगले टेस्ट के लिए बुलाया जाएगा। इस नई व्यवस्था को अमल में लाने के लिए सेना एक खास सॉफ्टवेयर तैयार कर रही है।

इसी सॉफ्टवेयर के जरिये आवेदकों का पहले ऑनलाइन टेस्ट लिया जाएगा। दरअसल, सेना की खुली भर्ती के दौरान हालात बेकाबू से होने लगे हैं। अमूमन समय-समय पर तीन से 15 दिनों तक चलने वाली इन भर्तियों में 20 से 25 हजार तक अभ्यर्थी पहुंचते हैं।

भर्ती प्रक्रिया की शुरुआत दौड़, कूद आदि फिजिकल टेस्ट से होती है। आलम यह रहता है कि युवाओं की भारी भीड़ को संभालना और उनके लिए व्यवस्था करना सेना के लिए मुश्किल भरा होता है। 

अमूमन जिस शहर में भर्ती रैली होती है, अभ्यर्थी एक रात पहले ही वहां पहुंच जाते हैं और वहीं सड़कों व रैली मैदान में ठहरते हैं। कई तो हुड़दंग करते हैं और गंदगी भी फैलाते हैं। इतना ही नहीं दौड़ से पहले कुछ अभ्यर्थी नशे के इंजेक्शनों का भी इस्तेमाल करते हैं। इन्हीं वजहों के मद्देनजर भी सेना नई व्यवस्था पर विचार कर रही है।

दस्तावेजों की गड़बड़ियों पर नजर रखना होगा आसान 

नई व्यवस्था से फर्जी दस्तावेजों पर भी आसानी से नजर रखी जा सकेगी। अब चूंकि पहले ही ऑनलाइन टेस्ट हो जाएगा, इससे अयोग्य युवा तो दौड़ टेस्ट से पहले ही छंट जाएंगे। सीमित योग्य युवा ही भर्ती के लिए आएंगे, जिससे उनके दस्तावेजों की निगरानी का काम भी आसान होगा।  

You May Also Like

English News