खुशखबरी: 5 साल बाद 30 रुपए प्रति लीटर से भी कम हुई पेट्रोल की कीमत

नई दिल्ली: पेट्रोल की कीमत को लेकर हर आदमी परेशान रहता है. मगर पांच साल बाद पेट्रोल को 30 रुपए प्रति लीटर में खरीदा जा सकता है. ऐसा दावा किया है तकनीकी और इसके प्रभाव का अध्ययन करने वाले अमेरिका के मशहूर फ्यूचरिस्ट मतलब भविष्यवादी टोनी सीबा का. पेट्रोल की कीमतअमेरिका के ही इस प्रोफेशनल ने दावा किया था कि दुनिया में सोलर पावर का बूम होगा. टोनी का कहना है कि 2020-21 तक दुनिया में तेल की मांग उच्चतम स्तर पर होगी. जो 100 मिलियन बैरल तक पहुंच जाएगी इसके बाद तेल की कीमतों में भारी गिरावट दर्ज होगी. 

अगले 10 साल में तेल की मांग घटकर 70 मिलियन बैरल हो जाएगी, मतलब दुनिया में तेल की कीमत अंतर्राष्ट्रीय बाजार में 25 डॉलर प्रति बैरल तक गिर जाएगी. टोनी सीबा का कहना है कि आने वाले सालों में कच्चे तेल की बढ़ती कीमत के कारण सड़क पर इलेक्ट्रिक कारों का दबदबा बढ़ने वाला है. कुछ सालों में इलेक्ट्रिक कार खरीदना और उसका मेंटनेंस सस्ता होने वाला है.

जिसका असर तेल की कीमतों पर पड़ेगा. अंग्रेजी वेबसाइट इकोनॉमिक टाइम्स के अनुसार टोनी सीबा सिलिकन वैली के एक बड़े बिजनेसमैन हैं, साथ ही स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी में क्लीन एनर्जी से जुड़े अध्ययन में शामिल हैं. सीबा का कहना है कि आगे चलकर सेल्फ ड्राइव कारों का दबदबा बढ़ने वाला है, जो पेट्रोल की कीमतों को गिराने में सहायक साबित हो सकती है.

You May Also Like

English News