बड़ी खबर: OLA करेगी खाने की डिलीवरी, फूड पांडा को $200 मिलियन में खरीदा

टैक्सी ऐप ओला अब घर-घर खाने की डिलीवरी के बिजनेस में भी एक बार फिर से अपना भाग्य अजमाने जा रही है। कंपनी 2015 में अपने वेंचर ओला कैफे के बंद हो जाने के बाद एक बार फिर से इस सेगमेंट में अपनी किस्मत अजमाने जा रही है। बड़ी खबर: OLA करेगी खाने की डिलीवरी, फूड पांडा को $200 मिलियन में खरीदा

क्या आप भी पासपोर्ट जा रहे हैं बनवाने, तो एक बार जरुर पढ़ ले ये खास खबर….

फूड पांडा को 200 मिलियन डॉलर में खरीदा
ओला ने जर्मनी के डिलीवरी हीरो ग्रुप से फूडपांडा इंडिया को खरीद लिया है। फूडपांडा देश में जोमेटो और स्विगी के बाद तीसरे नंबर का फूड डिलीवरी ऐप है। इसके लिए कंपनी 200 मिलियन डॉलर निवेश के साथ-साथ 50 मिलियन का स्टॉक बेस्ड निवेश किया है। 

प्रणय जीवराज को दी गई जिम्मेदारी
फूडपांडा इंडिया के सीईओ सौरभ कोचर ने अपने पद से इस्‍तीफा देने का फैसला किया है। ओला के संस्‍थापक सदस्‍य प्रणय जीवराज को फूडपांडा इंडिया का अंतरिम सीईओ नियुक्‍त किया गया है और वे मौजूदा टीम के साथ काम कर रहे हैं।

रजिस्टर्ड हैं 15 हजार से अधिक रेस्टोरेंट
फूडपांडा के प्‍लेटफॉर्म पर भारत के 100 से अधिक शहरों में 15,000 से अधिक रेस्‍टोरेंट रजिस्‍टर्ड हैं। 2016-17 में इसका राजस्‍व 62.16 करोड़ रुपए रहा, जो कि इससे पहले के वित्‍त वर्ष में 37.81 करोड़ रुपए था। 2015-16 में फूडपांडा को 142.64 करोड़ रुपए का नुकसान हुआ था, जो 2016-17 में 69 प्रतिशत घटकर 44.81 करोड़ रुपए रह गया। कंपनी ने कहा था कि उसका लक्ष्‍य 2019 तक फायदे में आना है।      

 

You May Also Like

English News