बड़ी खुशखबरी: अगर 15 हजार का फोन खरीदना है तो लिस्ट में पहला नाम Xiaomi Mi A1

चीनी टेक्नॉलॉजी कंपनी Xiaomi ने भारत में मिड रेंज बजट स्मार्टफोन A1 लॉन्च किया है. यह स्मार्टफोन चीन में लॉन्च किए गए Mi 5X का दूसरा वैरिएंट कहा जा सकता है. क्योंकि स्पेसिफिकेशन एक जैसे ही हैं,लेकिन इसमें कुछ बड़े बदलाव किए गए हैं. इस स्मार्टफोन के लिए कंपनी ने गूगल के साथ पार्टनर्शिप की है और इसमें Android One दिया गया है. कंपनी ने इसकी मार्केटिंग Created By Xiaomi Powered by Googleसे की है.बड़ी खुशखबरी: अगर 15 हजार का फोन खरीदना है तो लिस्ट में पहला नाम Xiaomi Mi A1अभी-अभी: हुंडई ने बढ़ाई कार की कीमत, महंगी हुई i20, Verna और Creta जैसी कारें

एंड्रॉयड वन होने की वजह से इसमें अगले का वर्जन का एंड्रॉयड मिलना तय है. इस साल के आखिर तक इसमें एंड्रॉयड ओरियो मिलेगा. इतना ही नहीं कंपनी ने यह भी साफ किया है कि यह उन चंद स्मार्टफोन्स में से एक होगा जिसमें Android P दिया जाएगा.

इस स्मार्टफोन के रिव्यू में हम आपको बताएंगे कि इस स्मार्टफोन की परफॉर्मेंस कैसी है, यह दिखता कैसा है,इसकी बैटरी बैकअप दावे पर खरी उतरती है या नहीं और इसका कैमरा कैसा है. चूंकि इसमें डुअल कैमरा सेटअप है और कंपनी ने इसकी काफी मार्केटिंग भी की है खास कर iPhone 7 Plus से इसे कंपेयर किया गया है.

बिल्ड क्वॉलिटी

MI A1 मेटल का है और इसकी बिल्ड क्वॉलिटी सॉलिड है और यह प्रीमियम स्मार्टफोन से कम नहीं है. इसके ऐंटेना लाइन्स ऊपर की तरफ हैं और कैमरा बंप दिए गए हैं जिसमें दो लेंस लगे हैं. अगर आपने OnePlus 5 और iPhone 7 Plus देखा है तो ये स्मार्टफोन डिजाइन के मामलों में कमोबेश वैसा ही है. बॉडी मेटल की है और स्पीकर ग्रिल नीचे की तरफ दिया गया है. इस स्मार्टफोन के रियर में नीचे की तरफ आपको AndroidOne की ब्रांडिंग मिलेगी और यहां मेड इन इंडिया भी लिखा मिलेगा. क्योंकि कंपनी ने इसे भारत के ही प्लांट में तैयार किया है.

डिस्प्ले

Mi A1 में 5.5 इंच की फुल एचडी डिस्प्ले दी गई है और इसका ग्लास 2.5D कर्व्ड है जिसकी वजह से यूज करना काफी आसान है.

हालांकि कंपनी ने ऐसी ही डिस्प्ले Redmi Note 4 में दी है. लेकिन Mi A1 में थोड़े इंप्रूवमेंट जरूर किए गए हैं. प्रोटेक्शन के लिए इसमें गोरिल्ला ग्लास 3 दिया गया है. इस्तेमाल करने में हमें इसकी डिस्प्ले ब्राइट लगी और खासकर सूरज की रौशनी में आप इसे अच्छे से यूज कर सकेंगे. यानी डिस्प्ले के कॉन्टेंट देखने में आपको कोई परेशानी नहीं होगी. इमेज और टेक्स्ट बेहतर और शार्प दिखते हैं. व्यूइंग एंगल की बात करें तो इसमें यह बेस्ट तो नहीं लेकिन ठीक ठाक ही है. कलर्स अच्छे दिखते हैं और आंखों में चुभते नहीं है.

कैमरा टेस्ट

Xiaomi Mi A1 में डुअल रियर कैमरा सेटअप है. एक लेंस 12 मेगापिक्सल का वाइड एंगल है और इसका अपर्चर f/2.2 है. जबकि दूसरा 12 मेगापिक्सल का टेलीफोटो लेंस दिया गया है, इसका अपर्चर f/2.6 है. सेल्फी के लिए इसमें 5 मेगापिक्सल का सेल्फी कैमरा दिया गया है.

इसके अलावा इसमें 2X ऑप्टिकल जूम दिया गया है और दूसरे स्टैंटर्ड कैमरा फीचर्स उपलब्ध हैं. खास बात यह है कि कंपनी ने MI A1 के कैमरे को iPhone 7 Plus और OnePlus 5 से कंपेयर किया है. हालांकि तुलान सिर्फ बोके इफेक्ट यानी बैक्ग्रांड ब्लर करने के लिए ही की गई. बैक्ग्राउंड ब्लर करने का फीचर डीएसएलआर का एक फीचर है जो अब स्मार्टफोन में भी ट्रेंड में है.

बैक्ग्राउंड ब्लर करके तस्वीरें क्लिक करने की बात करें तो यह फोन इसके लिए बेहतरीन हैं. तस्वीरें अच्छी आती हैं और डीटेलींग भी ठीक ठाक है. लेकिन जैसा कंपनी ने दावा किया था कि यह iPhone 7 Plus से भी बेहतरीन बैक्ग्राउंड ब्लर करता है ऐसा नहीं है. हमने Mi A1 और iPhone 7 Plus से डेप्थ इफेक्ट वाली तस्वीरें ली जिसमें iPhone 7 Plus बेहतर साबित हुआ है. Mi A1 का कैमरा इस सेग्मेंट के हिसाब से प्रभावित करता है.

आम फोटोग्राफी की बात करें तो इसके दोनों कैमरे बेहतरीन हैं और आप अच्छी तस्वीरें क्लिक कर सकते हैं.

अब बात परफॉर्मेंस की

Mi A1 परफॉर्मेंस में आपको निराश नहीं करता. आइए जानते हैं हम ऐसा क्यों कह रहे हैं. इस में क्वॉल्कॉम स्नैपड्रैगन 625 प्रोसेसर लगाया गया है जो इस सेग्मेंट का बेस्ट है और यह मल्टी टास्किंग के लिए काफी बेहतर है. इसमें दिया जाने वाला 4GB रैम इस स्मार्टफोन को फास्ट बनाता है और एक ऐप से दूसरे ऐप में स्विच करना काफी आसान है. लोडिंग टाइम कम है और काफी स्मूद है.

हमने इसमें Asphalt 8 और इसी तरह के कुछ दूसरे गेम खेल कर इसे परखा है. गेमिंग के दौरान यह स्मार्टफोन थोड़ा गर्म जरूर हुआ, लेकिन यह लैग नहीं करता. आराम से गेमिंग  की जा सकती है और 5.5 इंच की फुल एचडी डिस्प्ले होने की वजह से यह अच्छा अनुभव. हार्डवेयर के अलावा किसी भी स्मार्टफोन का परफॉर्मेंस इस बात पर भी निर्भर करता है कि इसमें ऑपरेटिंग सिस्टम कौन सा है.

सॉफ्टवेयर (Android One)

Mi A1 के बेहतरीन परफॉर्मेंस की वजह न सिर्फ हार्डवेयर है बल्कि इसमें दिया गया स्टॉक एंड्रॉयड वन है जो काफी सिंपल है और इसमें आपको ब्लोटवेयर नहीं मिलेंगे.

शाओमी के कुछ ऐप हैं बाकी गूगल के ऐप्स दिए गए हैं. मल्टी टास्किंग भी करने में आपको कोई परेशानी नहीं होगी, हालांकि एक बार फिर बता दें कि अगर एक बार में ज्यादा ऐप्स यूज करते वक्त हमारा फोन गर्म जरूर हुआ. लेकिन स्लो होने या हैंग होने की समस्या नहीं हुई है. आने वाले समय में इसमें एंड्रॉयड ओरियो मिलेगा तो यह और भी बेहतर हो सकता है. सॉफ्टवेयर कस्टमाइजेशन के मामले यह स्मार्टफोन कमाल का है.

 बैटरी

इसमें दिए गए प्रोसेसर यानी क्वॉलकॉम स्नैपड्रैगन 625 की एक खासियत जो हमें पसंद आई वो ये है कि यह बैटरी इफीशिएंट है. Redmi Note 4 से कम पावर की बैटरी होने के बावजूद यह बैकअप के मामले में आपको निराश नहीं करेगा. इसमे 3,080mAh की बैटरी दी गई है और पूरे दिन आराम से चला सकते हैं. ये हमने आपको मिक्स्ड यूज का बैकअप बताया है. लेकिन दिन में आप ठीक ठीक वीडियोज देखते हैं, कॉलिंग करते हैं और सोशल मीडिया पर ऐक्टिव रहते हैं कनेक्टिविटी के साथ तो शाम होने से पहले आपको बैटरी चार्ज करने की जरूरत होगी.

क्या आपको यह फोन लेना चाहिए?

कुल मिला कर यह स्मार्टफोन एक शानदार पैकेज है. हार्डवेयर, सॉफ्टवेयर, डिजाइन, कैमरा और बिल्ड क्वॉलिटी आपको निराश नहीं करेंगे. फिलहाल बाजार में इस सेग्मेंट के स्मार्टफोन के सभी डिपार्टमेंट इतने बेहतरीन नहीं होते हैं जितने Mi A1के हैं. अगर आप इस बजट का स्मार्टफोन खरीदना चाहते हैं तो यह आपकी ऑप्शन लिस्ट में नंबर-1 है.

You May Also Like

English News