बड़ी खुशखबरी: अब घर बैठे खुद बनाएं अपना ड्राइविंग लाइसेंस

सीएम केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली में सबसे बड़ा चैलेंज बढ़ता ट्रैफिक और पलूशन की समस्या से निपटना है। यह तभी संभव हो पाएगा जब पब्लिक ट्रांसपॉर्ट सिस्टम मजबूत होगा।दिल्ली सरकार के ट्रांसपोर्ट डिपार्टमेंट ने जनता के मद्देनजर अपनी 8 बड़ी सेवाओं को ऑनलाइन सिस्टम के दायरे में कर दिया है।  इसके तहत लर्निंग और पर्मानेंट ड्राइविंग लाइसेंस से लेकर डुप्लिकेट रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट, ट्रांसफर ऑफ वीकल जैसी सुविधाएं अब घर बैठे मिल सकेंगी।

 
सरकार ने इस योजना के मकसद का जिक्र किया। सरकार का कहना है कि इस योजना को लागू करने का हमारा मकसद  दिल्ली में ई-अथॉरिटी के कॉन्सेप्ट को पूरी तरह से लागू किया जा सके।  बता दें कि ट्रांसपॉर्ट मिनिस्टर सत्येंद्र जैन ने बताया कि ऑनलाइन सिस्टम के बाद लोगों को केवल ड्राइविंग टेस्ट और गाड़ी की फिटनेस के लिए आना होगा।
इस योजना के तहत वीआईपी नंबर के लिए रजिस्ट्रेशन प्रोसेस को भी पूरी तरह से ऑनलाइन कर दिया गया है। ई-ऑक्शन प्रोसेस को पूरी तरह से कंप्यूटराइज्ड कर दिया गया है। इसके लिए पेमेंट भी ऑनलाइन होगी। हर साल दो लाख से ज्यादा वीकल ट्रांसफर केस होते हैं, लेकिन बहुत कम लोग अप्लाई करते थे। अब आसानी से ट्रांसफर ऑफ वीकल हो सकेगा।

You May Also Like

English News