भंसाली के साथ मारपीट पर बोले लालू, ‘बिहार में ये होता तो मीडिया रायता फैला देता’

बिहार के डिप्टी सीएम तेजस्वी प्रसाद यादव ने फिल्म निर्माता संजय लीला भंसाली पर 27 जनवरी को राजस्थान के जयपुर में फिल्म ‘पद्मावती’ की शूटिंग के दौरान हुए हमले की निंदा की। साथ ही फिल्मी कलाकारों को फिल्मों की शूटिंग करने के लिए बिहार आने का न्यौता दिया।
भंसाली के साथ मारपीट पर बोले लालू, 'बिहार में ये होता तो मीडिया रायता फैला देता'

भाभी के साथ रात गुजारने वाले पति का विरोध करने पर पत्नी को मिली भयानक सजा

तेजस्यवी यादव ने कहा कि यह सुरक्षा की कमी है कि फिल्म में तथ्यों को विकृत करने का आरोप लगाते हुए हमलावरों ने फिल्म निर्माता से मारपीट की और उसके सेट पर तोड़-फोड़ की। उन्होंने फिल्म निर्माताओं को शूटिंग के लिए बिहार आने का न्यौता देते हुए सभी तरह की मदद का आश्वासन दिया

सोमवार को पत्रकारों से बातचीत के दौरान तेजस्वी यादव ने सरकार पर हमला करते हुए कहा “बीजेपी शासित राजस्थान में भंसाली के साथ जो हुआ वो बहुत दुर्भाग्यपूर्ण घटना है, हिन्दुस्तानियों को एक-दूसरे के खिलाफ भड़काना और उन्हें आपस में लड़ाना बीजेपी के डीएनए में है।”

जेडीयू नेता शरद यादव के ‘बेटी व वोट’ संबंधी बयान पर बिफरी बीजेपी

बाद में टवीट् कर तेजस्वी और उनके पिता, आरजेडी अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव ने मीडिया पर निशाना साधते हुए कहा कि मीडिया इस मुद्दे को उतनी दृढ़ता से नही उठाया,  जितना बिहार के हर अपराध मुद्दे को उठाती है।

तेजस्वी यादव ने टवीट् किया- अगर भंसाली पर बिहार में हमला हुआ होता तो जातिवाद और जंगल राज को लेकर न जाने पत्रकारों द्वारा कितनी बहस मीडिया में चल रही होती। एक और टवीट् में तेजस्वी यादव ने कहा कि- मैं बॉलीवुड को ऐतिहासिक, महिमा, सांस्कृतिक रूप से समृद्ध और विकासशील बिहार में आने का न्यौता देता हूं और हर तरह की जरुरी मदद का आश्वासन देता हूं। 

तेजस्वी यादव के टवीट् का जवाब देते हुए प्रख्यात लेखक चेतन भगत ने टवीट् कर अपने उपन्यास ‘हॉफ गर्लफ्रेंड’ पर पिछले साल बनी फिल्म के कुछ दृश्यों बिहार में शूट करने के लिए उन्हें धन्यवाद किया।

लालू प्रसाद यादव ने टवीट् किया-“बिहार होता तो भाजपाई (भाजापा समर्थक) मीडिया वाले जातिवाद और जंगल राज का रायता फैला कर बिहार को बदनाम कर रहा होता। बीजेपी शासित प्रदेश है तो ई चुप है।” 

 

You May Also Like

English News