भगंवत मान ने कहा-कांग्रेस में नहीं हो रहा शामिल, आप का सिपाही हूं आैर वहीं रहूंगा

आम आदमी पार्टी के पंजाब प्रधान और सांसद भगवंत मान ने कहा कि उनके बारे में आम आदमी पार्टी छोड़कर कांग्रेस में जाने की बात कोरी अफवाह है। वह आप के सिपाही हैं और इसी पार्टी में रहेंगे। वह अगला लाेकसभा चुनाव भी संगरूर से ही लड़ेंगे1पिछले दिनों बिट्टू ने कहा था कि भगवंत मान को 2019 लोकसभा चुनाव से पहले कांग्रेस में शामिल कराया जाना चाहिए। इस पर मुख्‍यमंत्री कैप्‍टन अमरिंदर सिंह ने बिट्टू को फटकार लगाई है। मुख्यमंत्री ने कहा कि पार्टी नेताओं को ऐसी सार्वजनिक बयानबाजी से परहेज करने चाहिए।  कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा कि दूसरी पार्टियों के नेताओं को कांग्रेस में लाने संबंधी कोई भी फैसला लेना पार्टी हाईकमान के अधिकार क्षेत्र में होता है। पार्टी के मसलों के बारे में संबंधित विचार-विमर्श के लिए पार्टी मंच ही सही जगह होती है। कैप्टन ने बिट्टू के बयान पर हैरानी जताई और कहा कि इस तरह की चीजें कतई स्‍वीकार नहीं की जा सकती है।

वह दिड़बा के नजदीक गांव खेतला में पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे़  उन्होंने कहा कि वह आम आदमी पार्टी के वफादार सिपाही हैं और रहेंगे। अगले लोकसभा चुनाव में संगरूर की सीट छोड़कर बठिंडा या अन्य कहीं चुनाव लडऩे की बात पर उन्होंने कहा कि संगरूर क्षेत्र के लोगों ने उन्हें जो प्यार व सत्कार दिया है उसे भुलाया या छोड़ा नहीं जा सकता। वह संगरूर छोड़कर कहीं नहीं जाएंगे अौर यहीं से चुनाव लड़ेंगे।

 भगवंत मान ने हरसिमरत कौर बादल द्वारा बठिंडा से चुनाव लड़ने की चुनौती की चर्चा करते हुए कहा कि वह संगरूर छोड़ कर नहीं जा सकते। यदि मेरे खिलाफ चुनाव लड़ना है तो हरसिमरत कौर भी संगरूर से चुनाव लड़ लें। पार्टी के प्रांतीय प्रधानगी के पद से इस्तीफे के संबंध में उन्होंने कहा कि वह अपने फैसले पर आज भी कायम हैं।

बता दें कि पंजाब कांग्रेस में भगंवत मान को लेकर घमासान मच गया है। भगवंत मान के कांग्रेस में शामिल किए जाने की चर्चा से पार्टी में हलचल मची है। कांग्रेस के लुधियाना से सांसद रवनीत सिंह बिट्टू ने कहा है कि भगवंत मान को कांग्रेस में शामिल किया जाना चाहिए। इस पर मुख्‍यमंत्री कैप्‍टन अमरिंदर सिंह गरम हो गए। उन्‍होंने बिट्टू पर नाराजगी जताते हुआ कहा है कि वह अपने अधिकार क्षेत्र से बाहर न जाएं।

पिछले दिनों बिट्टू ने कहा था कि भगवंत मान को 2019 लोकसभा चुनाव से पहले कांग्रेस में शामिल कराया जाना चाहिए। इस पर मुख्‍यमंत्री कैप्‍टन अमरिंदर सिंह ने बिट्टू को फटकार लगाई है। मुख्यमंत्री ने कहा कि पार्टी नेताओं को ऐसी सार्वजनिक बयानबाजी से परहेज करने चाहिए।

कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा कि दूसरी पार्टियों के नेताओं को कांग्रेस में लाने संबंधी कोई भी फैसला लेना पार्टी हाईकमान के अधिकार क्षेत्र में होता है। पार्टी के मसलों के बारे में संबंधित विचार-विमर्श के लिए पार्टी मंच ही सही जगह होती है। कैप्टन ने बिट्टू के बयान पर हैरानी जताई और कहा कि इस तरह की चीजें कतई स्‍वीकार नहीं की जा सकती है।

 

You May Also Like

English News