भाजपा अगला चुनाव नहीं जीत पाएगी – अखिलेश

लखनऊ : हालाँकि लोक सभा के चुनाव में अभी समय है , लेकिन पूरे देश का माहौल चुनावी होता जा रहा है.इस बीच उत्तर प्रदेश के पूर्व सीएम और समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव का कहना है कि एसपी-बीएसपी गठबंधन के रहते भाजपा 2019 का लोकसभा चुनाव हार जाएगी.लखनऊ : हालाँकि लोक सभा के चुनाव में अभी समय है , लेकिन पूरे देश का माहौल चुनावी होता जा रहा है.इस बीच उत्तर प्रदेश के पूर्व सीएम और समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव का कहना है कि एसपी-बीएसपी गठबंधन के रहते भाजपा 2019 का लोकसभा चुनाव हार जाएगी.  बता दें कि अखिलेश यादव ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी को लेकर जनता में बहुत नाराजगी है.ये नाराजगी वोटों में बदल रही है. बीजेपी ने झूठा प्रचार किया, खूब सपने दिखाए. इस पर लोगों ने जमकर भरोसा किया लेकिन अब जनता में खासी नाराज़गी है.यादव ने कहा कि बीजेपी एसपी-बीएसपी के गठबंधन को तोड़ने की कोशिश करेगी.अगर यह बंधन नहीं टूटता है, तो बीजेपी भूल जाए कि अगली सरकार उनकी बनेगी. बीजेपी शून्य पर चली जाएगी.  उल्लेखनीय है कि अखिलेश यादव ने कहा कि राजनीति में मुद्दों के आधार पर लोग जुड़ते हैं. परिस्थियां लोगों को जोड़ती हैं और दूर भी कर देती हैं.तीसरे मोर्चे के बारे में अखिलेश ने कहा कि मौजूदा माहौल में देश को एक नए मोर्चे की जरूरत है.पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी से बात हुई है.इस दिशा में चंद्रबाबू नायडू, शरद पवार, चंद्रशेखर राव भी सक्रिय हैं.कांग्रेस के साथ की भी हिमायत की लेकिन फ्रंट का चेहरा कौन होगा इस पर वे कुछ नहीं बोले.

बता दें कि अखिलेश यादव ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी को लेकर जनता में बहुत नाराजगी है.ये नाराजगी वोटों में बदल रही है. बीजेपी ने झूठा प्रचार किया, खूब सपने दिखाए. इस पर लोगों ने जमकर भरोसा किया लेकिन अब जनता में खासी नाराज़गी है.यादव ने कहा कि बीजेपी एसपी-बीएसपी के गठबंधन को तोड़ने की कोशिश करेगी.अगर यह बंधन नहीं टूटता है, तो बीजेपी भूल जाए कि अगली सरकार उनकी बनेगी. बीजेपी शून्य पर चली जाएगी.

उल्लेखनीय है कि अखिलेश यादव ने कहा कि राजनीति में मुद्दों के आधार पर लोग जुड़ते हैं. परिस्थियां लोगों को जोड़ती हैं और दूर भी कर देती हैं.तीसरे मोर्चे के बारे में अखिलेश ने कहा कि मौजूदा माहौल में देश को एक नए मोर्चे की जरूरत है.पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी से बात हुई है.इस दिशा में चंद्रबाबू नायडू, शरद पवार, चंद्रशेखर राव भी सक्रिय हैं.कांग्रेस के साथ की भी हिमायत की लेकिन फ्रंट का चेहरा कौन होगा इस पर वे कुछ नहीं बोले.

You May Also Like

English News