भाजपा का वादा, सरकार बनने के बाद फर्जी मुठभेड़ों की जांच करेगी सीबीआई

असम के वित्त मंत्री हेमंता बिस्वा सरमा ने सोमवार को कहा कि यदि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) मणिपुर में अगली सरकार बनाती है तो राज्य में हुई फर्जी मुठभेड़ों की जांच केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) से कराई जाएगी। शर्मा ने यह टिप्पणी भाजपा के दफ्तर में एक संवाददाता सम्मेलन के दौरान की।

सीबीआई

सीबीआई मणिपुर में हुयी फर्जी मुठभेड़ों के गुनहगारों के खिलाफ करेगी कार्यवाई

उन्होंने दूसरे भाजपा सदस्यों के साथ मणिपुर विधानसभा के दूसरे व अंतिम चरण के चुनाव प्रचार के तहत राज्य का दौरा किया। राज्य में चुनाव प्रचार सोमवार को 3 बजे समाप्त हो गया। राज्य में लोग सुरक्षा बलों द्वारा फर्जी मुठभेड़ में मारे गए जिम्मेदार लोगों की गिरफ्तारी की मांग करते रहे हैं। सरमा ने कहा, “सत्ता प्रतिष्ठान से जुड़ा एक पुलिसकर्मी एक फर्जी मुठभेड़ मामले में संदिग्ध है।” उन्होंने कहा कि अदालत ने पुलिस अधिकारी की अंतरिम अग्रिम जमानत खारिज कर दी है, अब वह सीबीआई की जांच का सामना कर रहे हैं।

पहले चरण में चार मार्च को भारी मतदान का जिक्र करते हुए सरमा ने कहा कि लोगों ने ‘भ्रष्ट कांग्रेस सरकार’ के खिलाफ मतदान किया है।निर्वाचन अधिकारियों के मुताबिक, मणिपुर विधानसभा चुनाव के पहले चरण के मतदान में 84 फीसदी से ज्यादा मतदान दर्ज किया गया था बीते शनिवार को हुए मतदान में कुल 168 उम्मीदवार मैदान में थे, जिसमें से सात महिलाएं थीं। इसके लिए 38 निर्वाचन क्षेत्र के 1,643 मतदान केंद्रों पर मत डाले गए। दूसरे और अंतिम चरण के 22 निर्वाचन क्षेत्रों के लिए मतदान 8 मार्च को होना है।

You May Also Like

English News