भाजपा नेता विनय कटियार ने कहा, गौ हत्या पर चुप रहना भी ठीक नहीं

मॉब लिंचिंग को लेकर काफी शोर-शराबे के बीच में भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता विनय कटियार ने आज बड़ा बयान दिया है। संगमनगरी इलाहाबाद में विनय कटियार ने कहा कि गौ हत्या पर प्रतिक्रिया बेहद स्वाभाविक है। इस पर तो चुप नहीं रहा जा सकता है। गौ हत्या होगी तो चुप नहीं रहा जा सकता। कटियार ने कहा, मुसलमान भावनाएं समझें भावनाओं से खिलवाड़ नहीं करना चाहिए।गौ हत्या के शक में राजस्थान के अलवर में हुई मॉब लिंचिंग पर वरिष्ठ भाजपा नेता विनय कटियार ने पत्रकारों से बातचीत में कहा कि मुसलमानों को अब लोगों की भावनाओं को समझना चाहिए और उससे खिलवाड़ नहीं करना चाहिए। इलाहाबाद में एक निजी कार्यक्रम में हिस्सा लेने आये बजरंगी कटियार के नाम से विख्यात पूर्व सांसद विनय कटियार ने कहा कि देश में अगर गौ हत्या की घटनाएं हुईं तो मॉब लिंचिंग बढ़ेगी ही। गौ हत्या पर तो चुप भी नहीं रहा जा सकता। मॉब लिंचिंग उचित नहीं है तो दूसरी तरफ गौ हत्या भी उचित नहीं है।  कटियार ने कहा कि देश में पशु को लेकर मनुष्य की हत्या हो जाना कतई उचित नहीं है, लेकिन यह भी उचित नहीं है कि गाय ही हत्या हो और लोग उस पर प्रतिक्रिया ना दें। अपने बयान में कटियार ने यह भी कहा कि देश में मॉब लिंचिंग की घटनाएं नहीं होनी चाहिए और लोगों को कानून भी हाथ में लेने का अधिकार नहीं है। कटियार ने राजस्थान के अलवर में हुई घटना को दुर्भाग्यपूर्ण करार देते हुए इसकी जांच की भी मांग की है।    इलाहाबाद में बसपा नेता की हत्या के मामले में डॉ. मुकुल के खिलाफ केस दर्ज यह भी पढ़ें   उन्होंने कहा कि गौ हत्या पर लोगों की चुप्पी भी उचित नहीं है। हालांकि इस मामले में किसी को कानून हाथ में नहीं लेना चाहिए। भाजपा नेता विनय कटियार ने कहा कि मुस्लिम गाय को छूने से पहले कई बार सोचें। यह इस देश के करोड़ों लोगों की भावना का प्रश्न है। कटियार का कहना है कि मॉब लिंचिंग की घटनाओं को रोकने के लिए अलग से कानून की जरूरत है और विपक्षी दलों को इसकी वजह से संसद को बाधित करने का एक मौका मिल गया है। देश के लोगों में गौ हत्या को लेकर जागरूकता आई है और इसी कारण मॉब लिंचिंग की घटनाओं में इजाफा हुआ है। कटियार ने कहा है कि मुसलमानों को एक दूसरे की भावनाओं का ख्याल रखना चाहिए और यह समझना भी चाहिए कि अब देश में गौ वंश का वध नहीं हो सकता।   दलित छात्र की निर्मम हत्या के मामले में जांच को जाते भाजपा नेता रोके गए यह भी पढ़ें वरिष्ठ भाजपा नेता विनय कटियार ने कहा कि  अगर अयोध्या में अब राम मंदिर निर्माण शुरू नहीं हुआ तो 1992 से भी बड़ा संघर्ष होगा। उस संघर्ष का परिणाम क्या होगा कोई भी आकंलन नहीं कर सकता है। अयोध्या में राम मंदिर निर्माण को लेकर कटियार ने कहा कि राम मंदिर के निर्माण के लिए यदि जरुरत होगी तो फिर से भीषण संघर्ष करेंगे और आर-पार की लड़ाई भी लड़ी जाएगी। बाबर ने मंदिर तोड़ने के लिए किसी कोर्ट से आदेश नहीं लिया था। इसलिए हमे भी राम मंदिर निर्माण के लिए किसी कोर्ट की आवश्यकता नहीं है। फिर भी कोर्ट का जो भी फैसला आयेगा उसके बाद क्या करना है इस पर विचार किया जाएगा।

गौ हत्या के शक में राजस्थान के अलवर में हुई मॉब लिंचिंग पर वरिष्ठ भाजपा नेता विनय कटियार ने पत्रकारों से बातचीत में कहा कि मुसलमानों को अब लोगों की भावनाओं को समझना चाहिए और उससे खिलवाड़ नहीं करना चाहिए। इलाहाबाद में एक निजी कार्यक्रम में हिस्सा लेने आये बजरंगी कटियार के नाम से विख्यात पूर्व सांसद विनय कटियार ने कहा कि देश में अगर गौ हत्या की घटनाएं हुईं तो मॉब लिंचिंग बढ़ेगी ही। गौ हत्या पर तो चुप भी नहीं रहा जा सकता। मॉब लिंचिंग उचित नहीं है तो दूसरी तरफ गौ हत्या भी उचित नहीं है।

कटियार ने कहा कि देश में पशु को लेकर मनुष्य की हत्या हो जाना कतई उचित नहीं है, लेकिन यह भी उचित नहीं है कि गाय ही हत्या हो और लोग उस पर प्रतिक्रिया ना दें। अपने बयान में कटियार ने यह भी कहा कि देश में मॉब लिंचिंग की घटनाएं नहीं होनी चाहिए और लोगों को कानून भी हाथ में लेने का अधिकार नहीं है। कटियार ने राजस्थान के अलवर में हुई घटना को दुर्भाग्यपूर्ण करार देते हुए इसकी जांच की भी मांग की है। 

उन्होंने कहा कि गौ हत्या पर लोगों की चुप्पी भी उचित नहीं है। हालांकि इस मामले में किसी को कानून हाथ में नहीं लेना चाहिए। भाजपा नेता विनय कटियार ने कहा कि मुस्लिम गाय को छूने से पहले कई बार सोचें। यह इस देश के करोड़ों लोगों की भावना का प्रश्न है। कटियार का कहना है कि मॉब लिंचिंग की घटनाओं को रोकने के लिए अलग से कानून की जरूरत है और विपक्षी दलों को इसकी वजह से संसद को बाधित करने का एक मौका मिल गया है। देश के लोगों में गौ हत्या को लेकर जागरूकता आई है और इसी कारण मॉब लिंचिंग की घटनाओं में इजाफा हुआ है। कटियार ने कहा है कि मुसलमानों को एक दूसरे की भावनाओं का ख्याल रखना चाहिए और यह समझना भी चाहिए कि अब देश में गौ वंश का वध नहीं हो सकता।

वरिष्ठ भाजपा नेता विनय कटियार ने कहा कि  अगर अयोध्या में अब राम मंदिर निर्माण शुरू नहीं हुआ तो 1992 से भी बड़ा संघर्ष होगा। उस संघर्ष का परिणाम क्या होगा कोई भी आकंलन नहीं कर सकता है। अयोध्या में राम मंदिर निर्माण को लेकर कटियार ने कहा कि राम मंदिर के निर्माण के लिए यदि जरुरत होगी तो फिर से भीषण संघर्ष करेंगे और आर-पार की लड़ाई भी लड़ी जाएगी। बाबर ने मंदिर तोड़ने के लिए किसी कोर्ट से आदेश नहीं लिया था। इसलिए हमे भी राम मंदिर निर्माण के लिए किसी कोर्ट की आवश्यकता नहीं है। फिर भी कोर्ट का जो भी फैसला आयेगा उसके बाद क्या करना है इस पर विचार किया जाएगा।

You May Also Like

English News