भाजपा ने कहा- AAP सरकार प्रदूषण नियंत्रित करने के लिए गंभीर नहीं है

एनजीटी द्वारा कड़े शर्त रखने के बाद दिल्ली सरकार ने ऑड-ईवन स्कीम यू-टर्न मान लिया जिसके वजह से सोमवार से दिल्ली में ऑड-ईवन स्कीम लागू नहीं होगी। इसी बात को आधार बनाते हुए भाजपा ने आम आदमी पार्टी सरकार पर तंज कसने शुरू कर दिए हैं। दिल्ली सरकार को आड़े हाथों लेते हुए रविवार को भाजपा प्रवक्ता नूपुर शर्मा की ओर से यह बयान आया है कि दिल्ली सरकार प्रदूषण को नियंत्रित करने के लिए गंभीर नजर नहीं आ रही है। भाजपा ने कहा- AAP सरकार प्रदूषण नियंत्रित करने के लिए गंभीर नहीं है

केजरीवाल सरकार की लापरवाही से जहरीली गैस का गुब्बारा बनी दिल्ली: मनोज तिवारी

उन्होंने आगे कहा’प्रदूषण को नियंत्रण में रखने के लिए एनजीटी ने सैकड़ों सुझाव दिए हैं जिनको दिल्ली सरकार ने लागू नहीं किया। दिल्ली सरकार ने ऑड-ईवन  स्कीम पर यू-टर्न इसलिए लिया क्योंकि कल एनजीटी ने ऑड-ईवन के फैसले की कड़ी निंदा की थी। एनजीटी ने पिछले साल के रिकार्ड के आधार पर कहा कि एनजीटी और सुप्रीम कोर्ट ने पिछले एक साल में प्रदूषण कम करने के लिए काफी सुझाव दिए और ऑड-ईवन लागू करने के लिए कभी भी नहीं कहा लेकिन आप सरकार ने ऑड-ईवन लागू किया और उनके सुझावों को नजरअंदाज किया।’ 

आगे उन्होंने कहा ‘दिल्ली सरकार के प्रदूषण बोर्ड के मना करने पर भी आप सरकार ने ऑड-ईवन लागू किया था। ऑड-ईवन और कुछ नहीं बल्कि दिल्लीवासियों के लिए अनावश्यक बाधा हैं। मुझे सच में यही लगता है कि सरकार इस समस्या को लेकर बिल्कुल भी गंभीर नहीं है।’ 

शनिवार को दिल्ली सरकार ने अपनी ऑड-ईवन स्कीम को वापस ले लिया है। शनिवार को सरकार ने अदालत के फैसले का हवाला देते हुए कहा कि महिलाओं, सरकारी कर्मचारियों और दुपहिया वाहनों को इस योजना से छूट नहीं दी जाएगी। प्रदूषण कम करने के लिए 13 से 17 नवंबर तक राजधानी में ऑड-ईवन लागू होगा। 

बता दें कि पहली बार ऑड-ईवन स्कीम पिछले साल 15 दिनों के लिए 1 से 15 जनवरी और 15 से 30 अप्रैल तक के लिए लागू किया गया था।

You May Also Like

English News