दो सीटें, चार प्रत्याशी: यहां है सियासत का रोमांचक 20-20 मुकाबला

लखनऊ। उत्तरप्रदेश विधानसभा चुनाव के तीसरे चरण में जिन 69 सीटों पर वोट डाले जा रहे हैं, उनमें लखनऊ कैंट और सरोजनी नगर सीटें भी शामिल हैं।

उत्तरप्रदेश विधानसभा चुनाव के तीसरे चरण

अभी अभी: रवि किशन समेत BJP में शामिल हुए कई मशहूर भोजपुरी के ये बड़े अभिनेता

लखनऊ कैंट से जहां समाजवादी पार्टी सुप्रीमो मुलायम सिंह यादव ने अपनी छोटी बहू अपर्णा यादव को टिकट दिया है, वहीं भाजपा ने कांग्रेस का दामन छोड़ने वालीं रीता बहुगुणा जोशी पर दांव खेला है।

वहीं सरोजनी नगर सीट से एक तरफ अखिलेश यादव के चचेरे भाई अनुराग यादव हैं तो दूसरी ओर भाजपा की स्वाति सिंंह हैं। स्वाति उन्हीं दयाशंकर सिंह की पत्नी हैं, जिन्होंने मायावती को लेकर विवादित बयान दिया था।

लखनऊ कैंट पर कांटे का मुकाबला

रविवार को अपने मताधिकार का प्रयोग करने के बाद रीता जोशी ने कहा कि वे आसानी से चुनाव जीत रही हैं। यही दावा 27 साल की अपर्णा भी कर रही हैं। अपर्णा का कहना है, मैं अभी विधायक नहीं बनी हूं, लेकिन इलाके में लंबे समय से सक्रिय हूं और लोग मुझे तथा मेरे काम को जानते हैं। इसलिए मुझे चुनाव जीतने में कोई परेशानी नहीं होगी।

वहीं रीता कहती हैं, 2012 में लखनऊ कैंट की जनता ने मुझे जिताया था। पांच साल में जितना काम किया है, उससे उम्मीद यही है कि इस बार और ज्यादा वोटों से चुनाव जीतूंगी।

बसपा ने यहां से योगेश दीक्षित को टिकट दिया है।

सरोजनी नगर में किसके सिर सजेगा ताज

सरोजनी नगर पर भी कड़ी टक्कर है। भाजपा ने छह साल के लिए निष्कासित कर दिए गए दयाशंकर सिंह की पत्नी पर दांव खेला है। स्वाति पहली बार चुनाव लड़ रही हैं। यहां अब तक हुए विधानसभा चुनावों में कभी भी भाजपा को जीत नसीब नहीं हुई है।

वहीं अनुराग यादव बदायूं से सांसद धर्मेंद्र यादव के छोटे भाई हैं। पहले लखनऊ के कॉल्‍विन कॉलेज और फिर बाबा साहब अंबेडकर टेक्‍नोलॉजिकल यूनिवर्सिटी से पेट्रोकेमिकल इंजिनीयरिंग की पढ़ाई करने के बाद उन्होंने मुंबई और अहमदाबाद में कई साल जॉब किया है। अब राजनीति में आए हैं।

मायावती ने यहां से शिवशंकर सिंह को टिकट दिया है।

loading...

You May Also Like

English News