भाजपा विधायक की अभद्रता बातो से रो पड़ी IPS अफसर, फेसबुक पर द‌िया जवाब

भाजपा विधायक की सरेआम अभद्रता के बाद इमोशनल हुई आईपीएस अधिकारी ने सोशल मीडिया पर अपने मन की बात लिखी।

रविवार को एसपी गोरखनाथ से भाजपा विधायक डॉ. राधा मोहन दास अग्रवाल ने सरेआम बड़े तल्ख लहजे में बात की थी। अपने सीनियर के वहां पहुंचते ही चारू रो पड़ीं और इस घटना का वीडियो सोशल मीडिया में वायरल हो गया। ये भी पढ़े: अभी-अभी: इस सबसे बड़े भारतीय क्रिकेटर ने अपनी पत्नी की गोली मारकर की हत्या, मिली फांसी की

सोमवार को सुबह चारू ने सोशल मीडिया पर चार लाइन की कविता के माध्यम से अपनी भावनाएं लिखीं। उन्होंने लिखा, 

मेरे आँसुओं को मेरी कमज़ोरी न समझना,
कठोरता से नहीं कोमलता से अश्क झलक गये।
महिला अधिकारी हूँ तुम्हारा गुरूर न देख पायेगा,
सच्चाई में है ज़ोर इतना अपना रंग दिखलाएगा।

इसके बाद चारू ने उन सभी लोगों को धन्यवाद भी दिया जो उनके सपोर्ट में आए। उन्होंने अपनी फेसबुक वॉल पर लिखा, मेरी ट्रेनिंग ने मुझे कमजोर होना नहीं सिखाया है।

मुझे उम्मीद नहीं थी क‌ि एसपी सिटी गणेश साहा सर तर्कहीन बहस को सिरे से नकार देंगे और मेरी चोट के बारे में पूछेंगे। सर के आने से पहले मैं वहां पुलिस की सीनियर मोस्ट अफसर थी पर जैसे ही सर वहां फोर्स के साथ आकर खड़े हुए मैं भावनात्मक हो गई।

मीडिया ये सब दिखाया क्योंकि सबने दोनो घटनाओं को देखा था और ये गोरखपुर मीडिया की सकारात्मकता को दर्शाता है। मैं मीडिया की आभारी हूं क‌ि उसने सच्चाई दिखाई। कृपया शांत‌ि रखें, मैं ठीक हूं मगर थोड़ी चोट पहुंची है। चिंता की कोई बात नहीं है।

बता दें क‌ि शराब की दुकान बंद कराने की मांग को लेकर गोरखपुर में रविवार को जाम लगाए ग्रामीणों ने झड़प के बाद पुलिस पर पथराव पर कर दिया था, जिसमें एएसपी गोरखनाथ चारु निगम घायल हो गईं थीं। मौके पर पहुंचे भाजपा विधायक डॉ. राधा मोहन दास अग्रवाल ने भी ग्रामीणों का साथ दिया और महिला आईपीएस से तीखे अंदाज में बात की। इससे महिला आईपीएस भावुक हो गईं और उनके आंसू छलक आए। उन्होंने रुमाल से चेहरा पोंछ कर खुद को किसी तरह सामान्य किया। 

 ये भी पढ़े: अभी अभी: BJP की भाषा बोल रहे हैं कपिल, केजरीवाल के ‘कैशकांड’ पर AAP ने दी ये 10 सफाई

घटना के बाद महिला आईपीएस अफसर जिला अस्पताल पहुंचीं और चिकित्सकीय परीक्षण कराया। माना जा रहा है कि प्रदर्शन करने वाले ग्रामीणों और भाजपा विधायक के खिलाफ मुकदमा दर्ज होगा। पुलिस ने भाजपा विधायक पर पब्लिक को भड़काने और जाम लगवाने के आरोप भी लगाए हैं। वहीं पुलिस ने मामले में सात लोगों को हिरासत में लिया है।

दरअसल, नकहा नंबर दो कोईलहवा टोले में आबादी के बीच में ही देसी और अंग्रेजी शराब की दुकानें खुली हैं। इन्हें बंद कराने की मांग लेकर रविवार की सुबह लाठी-डंडा हाथ में लेकर महिलाओं और पुरुषों ने खजांची-बरगदवां बाईपास पर जाम लगा दिया। मौके पर सीओ गोरखनाथ चारु निगम पहुंचीं और जाम खुलवाने की कोशिश की। इससे नाराज लोगों ने पुलिस पर पथराव कर दिया। जिसमें  महिला आईपीएस के दाहिने हाथ में चोट आई है। इसके बाद पुलिस ने प्रदर्शनकारियों को खदेड़ दिया। 

बवाल की सूचना पाकर नगर विधायक डॉ. आरएमडी अग्रवाल भी मौके पर पहुंचे। आरोप लगाया कि महिला आईपीएस ने प्रदर्शन कर रहीं महिलाओं को पीटा है। इस पर जब महिला आईपीएस चारु निगम ने कुछ बोलने की कोशिश की तो विधायक ने तीखे अंदाज में उन्हें टोक दिया। विधायक ने कहा कि हम एसडीएम से बात कर रहे हैं, आप चुप रहिये। यह सुनते ही महिला आईपीएस भावुक हो गईं और आंसू छलक आए। वहीं भाजपा विधायक के इस व्यवहार की शिकायत स्थानीय नेताओं ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से की है।

You May Also Like

English News