भारतीय कंपनियां हमारे बिग डेटा जोन में निवेश करें : चीन

एक चीनी प्रतिनिधिमंडल ने मंगलवार को भारतीय आईटी कंपनियों को चीन के गुइझोऊ प्रांत में राष्ट्रीय बिग डेटा पायलट जोन में निवेश के लिए आमंत्रित किया। भारतीय आईटी उद्योग की शीर्ष संस्था नैसकॉम द्वारा आयोजित प्रेस वार्ता में गुइजोऊ के गर्वनर सुन झिगांग ने कहा, “चीन के इंटरनेट ऑफ थिंग्स (आईओटी) और बिग डेटा पहल के केंद्र रूप में यह पायलट जोन भारतीय आईटी कंपनियों के लिए एक हॉट स्पॉट है।”भारतीय कंपनियां हमारे बिग डेटा जोन में निवेश करें : चीन

गुइझोऊ चीन का दक्षिणपश्चिमी क्षेत्र है जो ग्रीन डेटा सेंटर का हब है और लगातार छह सालों से जीडीपी (सकल घरेलू उत्पाद) वृद्धि दर के मामले में चीन का शीर्ष प्रांत है।

सुन ने कहा, “गुइझोऊ और बेंगलुरू में एक जैसी उच्च प्रौद्योगिकीय क्षमता है, क्योंकि यह प्रांत बिग डेटा औद्योगिक विकास का कलस्टर है जबकि भारतीय आईटी शहर प्रमुख सॉफ्टवेयर विकास केंद्र है।”

हुआवे, टेनसेंट, फॉक्सकॉम और अलीबाबा और चायना मोबाइल का कोर डेटा केंद्र इसी प्रांत में है और साल 2015 तक यह 30 लाख सर्वर का केंद्र होने की संभावना है।

नैसकॉम के वैश्विक व्यापार विकास निदेशक गगन सभरवाल ने कहा, “भारत-चीन सहयोग हमेशा से हमारे एजेंडा में शीर्ष पर रहा है, क्योंकि दोनों ही देशों को बिग डेटा का विशेषज्ञता हासिल है और एक-दूसरे को देने के लिए काफी कुछ है। यह वार्ता आईओटी के उभरती हुई पारिस्थितिकी प्रणाली और दोनों देशों के बिग डेटा के लिए महत्वपूर्ण है।”

You May Also Like

English News