भारतीय नौसेना में शामिल हुआ ये खतरनाक जहाज

मुंबई। भारतीय सेना के बेड़े में बेहद खतरनाक जहाज ‘आईएनएस चेन्नै’ शामिल हो गया है। आईएनएस चेन्नै कोलकाता क्लास का सबसे एडवांस जहाज है। %e0%a4%86%e0%a4%88%e0%a4%8f%e0%a4%a8%e0%a4%8f%e0%a4%b8-%e0%a4%9a%e0%a5%87%e0%a4%a8%e0%a5%8d%e0%a4%a8%e0%a5%88

164 मीटर लंबाई का यह जहाज 7500 टन का है। इसमें जमीन से जमीन पर हमला करने वाली ब्रह्मोस मिसाइल, जमीन से हवा में मार करने वाली बराक 8 मिसाइल को जगह दी गई है। आईएनएस चेन्नै शिप से दो हेलीकॉप्टर ऑपरेट किए जा सकते हैं। इस जहाज के बूतेे भारतीय उपमहाद्वीप में हमारी सेना की ताकत काफी हद तक बढ़ जाएगी।

इसमें स्वदेशी पनडुब्बी रोधी हथियार और सेंसर भी हैं। दुश्मन की मिसाइलों से बचाने के लिए इसमें “कवच” सिस्टम लगाया गया है। टॉरपीडो से बचाने के लिए इसमें “मारीच” सिस्टम है। इसके किचन में नई मशीनरी से 800 रोटियां प्रति घंटे तैयार हो सकती हैं। साथ ही इसमें नौसैनिकों के लिए बेहतर स्पेस का भी इंतजाम किया गया है।

इसमें भारत में निर्मित एंटी-सबमरीन हथियार और सेंसर लगे हैं। इसमें हेवीवेट टॉरपीडो ट्यूब लॉन्‍चर्स, रॉकेट लॉन्‍चर्स और सोनार क्षमता भी है। मुंबई में इस जहाज को भारतीय सेना के बेड़ेे में शामिल करने के मौके पर रक्षामंत्री मनोहर पर्रिकर भी मौजूद रहे।

 

उन्होंने यह जहाज देश को समर्पित करते हुए कहा, ‘भारतीय सेना के लिए यह ऐतिहासिक दिन है।’ इस मौके पर उन्होंने पाकिस्तान को चेतावनी देते हुए कहा कि सीमा पर तापमान गिर गया है। यह और गिरेगा। हम पहले वार नहीं करेंगे, लेकिन किसी ने हमला किया तो छोड़ेंगे भी नहीं। चीफ ऑफ नेवल स्टाफ एडमिरल सुनील लांबा भी इस मौके पर मौजूद थे। 

बता दें कि यह जहाज कोलकाता क्लास का सबसे अडवांस तकनीक का जहाज है। इस क्लास के पहले जहाज आईएनएस कोलकाता को 2014 में नौसेना में शामिल किया गया था, जबकि आईएनएस कोच्चि को पिछले साल सितंबर में नौसेना में शामिल किया गया। आईएनएस चेन्नै को शामिल किए जाने के साथ ही नौसेना का प्रॉजेक्ट 15ए पूरा हो गया है। इस जहाज को पश्चिमी नौसेना कमान के कंट्रोल में रखा जाएगा।

You May Also Like

English News