भारत की आर्थिक वृद्धि की दर 7.5 रहेगी: डॉयचे बैंक

नई दिल्ली : भारतीय अर्थव्यवस्था तेजी से आगे बढ़ रही है और चालू वित्त वर्ष में आर्थिक वृद्धि की दर 7.5 प्रतिशत तक पहुंच जाएगी यह अनुमान वैश्विक वित्तीय सेवा प्रदाता फर्म डॉयचे बैंक ने अपनी रिपोर्ट में लगाया है.

उल्लेखनीय है कि चालू वित्त वर्ष में आर्थिक वृद्धि की दर 7.5 प्रतिशत तक पहुंच जाने का अनुमान है. वैश्विक वित्तीय सेवा प्रदाता फर्म डॉयचे बैंक ने अपनी रिपोर्ट में यह बात कही है , जबकि भारतीय रिजर्व बैंक ने चालू वित्त वर्ष में आर्थिक वृद्धि दर 7.4 प्रतिशत रहने का अनुमान लगाया है. निवेश से जुड़ी गतिविधियों में सुधार से उम्मीदें बंधी है.

बता दें कि रिजर्व बैंक की इस रिपोर्ट में कच्चे तेल की बढ़ती कीमतें, आरबीआई द्वारा अनुमान से पहले दरों में वृद्धि का चक्र शुरू करने, बैंकिंग क्षेत्र में धोखाधड़ी का कर्ज और समग्र वृद्धि पर नकारात्मक प्रभाव पड़ने की आशंका से इंकार नहीं किया है.जो पूर्वानुमान के लिए जोखिम बन सकते हैं.स्मरण रहे कि कच्चे तेल की कीमत फ़िलहाल 75 डॉलर प्रति बैरल के करीब है, जो कि दिसंबर 2017 के स्तर से 12 प्रतिशत ज्यादा है.जो आर्थिक वृद्धि दर में 0.10 प्रतिशत और अन्य कारक वृद्धि दर को 0.15 से 0.20 प्रतिशत और कम कर सकते है.

You May Also Like

English News