भारत की एक हूंकार से पूरी तरह बर्बाद हो गया चीन

BIJING: भारत में CHINA के सामानों के बायकॉट का असर ड्रैगन के मुद्रा पर भी देखा जा रहा है। CHINA की मार्केट शनिवार की सुबह-सुबह ही क्रैश हो गई है।

भारत की एक हूंकार से पूरी तरह बर्बाद हो गया चीन
चीन की मुद्रा युआन की केंद्रीय समता दर अमेरिकी डॉलर के मुकाबले छह वर्षो के सबसे निचले स्तर तक पहुंच गई है। चाइना फॉरेन एक्सचेंज ट्रेड सिस्टम के मुताबिक आन की केंद्रीय समता दर अमेरिकी डॉलर के मुकाबले 122 आधार अंक घटकर 6.7858 हो गई है।
डॉलर के मुकाबले युआन का केंद्रीय समता मूल्य प्रत्येक कारोबारी दिन अंतरबैंक बाजार खुलने से पहले बाजार के विविध घटकों द्वारा पेश मूल्य के भारित औसत के बराबर होता है।
इससे पहले  दीवाली पर चीनी सामान के बहिष्कार के लिए कुछ हलकों से किए जा रहे आह्वान के बीच चीन ने कहा है कि इससे चीन की इकाइयों का भारत में निवेश और दोनों देशों के बीच आपसी सहयोग प्रभावित हो सकता है। नई दिल्ली में चीन के दूतावास की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि इस तरह के किसी बहिष्कार का उसके देश के निर्यात पर कोई खास असर नहीं पड़ेगा, उल्टा इसका सबसे ज्यादा नुकसान भारत के व्यापारियों और ग्राहकों का होगा क्योंकि उनके पास कोई समुचित विकल्प नहीं है।
चीन ने कहा है कि वह दुनिया का सबसे बड़ा व्यापारिक देश है और 2015 में उसका निर्यात 2276.5 अरब डॉलर के बराबर था और भारत को किया गया निर्यात इसका मात्र दो प्रतिशत था। गौरतलब है कि भारत सरकार की ओर से आधिकारिक तौर पर ऐसे किसी बहिष्कार की बात नहीं है।
 

You May Also Like

English News