भारत के खिलाफ अपनी धरती का इस्तेमाल नहीं होने देगा बांग्लादेश

गृह मंत्री राजनाथ सिंह तीन दिवसीय बांग्लादेश दौरे पर है जहा उन्होंने पीएम शेख हसीना के साथ अपने समकक्ष असदुजज्मान खान से दोनों मुल्कों से जुड़ी कई बातों पर बातचीत की. इस दौरान बांग्लादेश ने कहा है भारत में आतंकी गतिविधियों के लिए अपनी धरती का इस्तेमाल नहीं होने देगा. राजनाथ सिंह से वार्ता के बाद असदुजज्मान खान ने मीडिया से कहा कि बातचीत बेहद सफल रही. इसमें सीमा प्रबंधन पर खास जोर किया गया.राजनाथ सिंह की गैरमौजूदगी में हुई इस कांफ्रेंस में उनका कहना था कि आतंकवाद से लड़ाई में भारत उनके देश को हर तरह की सहायता मुहैया करा रहा है. इस बारे में सूचनाओं का आदान प्रदान भी किया जा रहा है.गृह मंत्री राजनाथ सिंह तीन दिवसीय बांग्लादेश दौरे पर है जहा उन्होंने पीएम शेख हसीना के साथ अपने समकक्ष असदुजज्मान खान से दोनों मुल्कों से जुड़ी कई बातों पर बातचीत की. इस दौरान बांग्लादेश ने कहा है भारत में आतंकी गतिविधियों के लिए अपनी धरती का इस्तेमाल नहीं होने देगा. राजनाथ सिंह से वार्ता के बाद असदुजज्मान खान ने मीडिया से कहा कि बातचीत बेहद सफल रही. इसमें सीमा प्रबंधन पर खास जोर किया गया.राजनाथ सिंह की गैरमौजूदगी में हुई इस कांफ्रेंस में उनका कहना था कि आतंकवाद से लड़ाई में भारत उनके देश को हर तरह की सहायता मुहैया करा रहा है. इस बारे में सूचनाओं का आदान प्रदान भी किया जा रहा है.  खान ने बताया कि रो¨हग्या मामले में भी भारत ने हर संभव सहायता का वायदा किया है. राजनाथ ने रविवार को ट्वीट कर रहा कि तीन दिन बांग्लादेश में बिताने के बाद वह वापस भारत रवाना हो गए हैं.   भारत के बांग्लादेश स्थित उच्चायोग ने बताया कि भारत-बांग्लादेश के गृहमंत्रियों की छठी वार्ता के दौरान- -दोनों में आतंकवाद के साथ सुरक्षा एजेंसियों में तालमेल बढ़ाने, सीमा प्रबंधन, गैरकानूनी गतिविधियों पर अंकुश लगाने जैसे जाली मुद्रा, ड्रग्स व मानव तस्करी पर व्यापक चर्चा हुई. -दोनों देशों के बीच वीजा व्यवस्था को सुगम बनाने के लिए समझौते पर दस्तखत किए गए -बांग्लादेश के स्वतंत्रता सेनानियों के साथ बुजुर्ग नागरिकों को पांच साल का मल्टीपल वीजा भारत मुहैया कराएगा  -मेडिकल व स्टूडेंट वीजा को भी सरल बनाने व इसे विस्तार देने की बात भी की गई  -राजनाथ ने बांग्लादेश दौरे पर वहां के संस्थापक शेख मुजीबुर रहमान के स्मारक पर जाकर श्रद्धांजलि दी -वे यहाँ के राष्ट्रपिता है  - पीएम शेख हसीना वाजेद उनकी संतान हैं

खान ने बताया कि रो¨हग्या मामले में भी भारत ने हर संभव सहायता का वायदा किया है. राजनाथ ने रविवार को ट्वीट कर रहा कि तीन दिन बांग्लादेश में बिताने के बाद वह वापस भारत रवाना हो गए हैं.

भारत के बांग्लादेश स्थित उच्चायोग ने बताया कि भारत-बांग्लादेश के गृहमंत्रियों की छठी वार्ता के दौरान-
-दोनों में आतंकवाद के साथ सुरक्षा एजेंसियों में तालमेल बढ़ाने, सीमा प्रबंधन, गैरकानूनी गतिविधियों पर अंकुश लगाने जैसे जाली मुद्रा, ड्रग्स व मानव तस्करी पर व्यापक चर्चा हुई.
-दोनों देशों के बीच वीजा व्यवस्था को सुगम बनाने के लिए समझौते पर दस्तखत किए गए
-बांग्लादेश के स्वतंत्रता सेनानियों के साथ बुजुर्ग नागरिकों को पांच साल का मल्टीपल वीजा भारत मुहैया कराएगा
 -मेडिकल व स्टूडेंट वीजा को भी सरल बनाने व इसे विस्तार देने की बात भी की गई 
-राजनाथ ने बांग्लादेश दौरे पर वहां के संस्थापक शेख मुजीबुर रहमान के स्मारक पर जाकर श्रद्धांजलि दी
-वे यहाँ के राष्ट्रपिता है 
– पीएम शेख हसीना वाजेद उनकी संतान हैं 

You May Also Like

English News