भीम आर्मी के ज‍िला अध्‍यक्ष के छोटे भाई की मौत पर बड़ा खुलासा

हिंसा के दौरान भीम आर्मी के ज‍िला अध्‍यक्ष कमल वाल‍िया के छोटे भाई सच‍िन वाल‍िया की मौत के मामले में बड़ा खुलासा करते हुए पुल‍िस ने दावा क‍िया क‍ि उसकी हत्‍या नहीं की गई, बल्‍क‍ि दुर्घटनावश चली गोली में मौत हुई. मंगलवार को पुल‍िस लाइंस में थाना देहात कोतवाली पुल‍िस और सर्व‍िलांस टीम ने इस मामले में एक आरोपी को तमंचे के साथ अरेस्‍ट क‍िया. सहारनपुर के डीआईजी शरद सचान ने मीड‍िया को बताया क‍ि 9 मई को महाराणा प्रताप जयंती पर आंबेडकर चौक पर सच‍िन वाल‍िया की गोली लगने से मौत हुई थी.हिंसा के दौरान भीम आर्मी के ज‍िला अध्‍यक्ष कमल वाल‍िया के छोटे भाई सच‍िन वाल‍िया की मौत के मामले में बड़ा खुलासा करते हुए पुल‍िस ने दावा क‍िया क‍ि उसकी हत्‍या नहीं की गई, बल्‍क‍ि दुर्घटनावश चली गोली में मौत हुई. मंगलवार को पुल‍िस लाइंस में थाना देहात कोतवाली पुल‍िस और सर्व‍िलांस टीम ने इस मामले में एक आरोपी को तमंचे के साथ अरेस्‍ट क‍िया. सहारनपुर के डीआईजी शरद सचान ने मीड‍िया को बताया क‍ि 9 मई को महाराणा प्रताप जयंती पर आंबेडकर चौक पर सच‍िन वाल‍िया की गोली लगने से मौत हुई थी.  इस मामले में आरोपी प्रवीण उर्फ मांडा न‍िवासी रामनगर को अरेस्‍ट क‍िए जाने के बाद मामले का खुलासा हुआ है. डीआईजी ने बताया क‍ि आरोपी प्रवीण ने बताया क‍ि 9 मई को वह अपनी दुकान पर था तभी सचिन ने उसे फोन करके न‍िहाल के घर बुलाया. प्रवीण जब न‍िहाल के घर पहुंचा तो वहां सच‍िन, गुल्‍लू, राहुल, श‍िवम, न‍ित‍िन और चंकी मौजूद थे. प्रवीण के मुताब‍िक वहां पर तमंचा रखा हुआ था, ज‍िसे चेक करने में गोली चल गई और वह सच‍िन को जा लगी. इससे सच‍िन की मौत हो गई.  गौरतलब है कि सहारनपुर में हुई हिंसा के दौरान  9 मई को महाराणा प्रताप जयंती पर आंबेडकर चौक पर सच‍िन वाल‍िया कि गोली लगने से मौत हो गई थी. सचिन  भीम आर्मी के ज‍िला अध्‍यक्ष कमल वाल‍िया के छोटे भाई थे.  हिंसा के दौरान भीम आर्मी के ज‍िला अध्‍यक्ष कमल वाल‍िया के छोटे भाई सच‍िन वाल‍िया की मौत के मामले में बड़ा खुलासा करते हुए पुल‍िस ने दावा क‍िया क‍ि उसकी हत्‍या नहीं की गई, बल्‍क‍ि दुर्घटनावश चली गोली में मौत हुई. मंगलवार को पुल‍िस लाइंस में थाना देहात कोतवाली पुल‍िस और सर्व‍िलांस टीम ने इस मामले में एक आरोपी को तमंचे के साथ अरेस्‍ट क‍िया. सहारनपुर के डीआईजी शरद सचान ने मीड‍िया को बताया क‍ि 9 मई को महाराणा प्रताप जयंती पर आंबेडकर चौक पर सच‍िन वाल‍िया की गोली लगने से मौत हुई थी.  इस मामले में आरोपी प्रवीण उर्फ मांडा न‍िवासी रामनगर को अरेस्‍ट क‍िए जाने के बाद मामले का खुलासा हुआ है. डीआईजी ने बताया क‍ि आरोपी प्रवीण ने बताया क‍ि 9 मई को वह अपनी दुकान पर था तभी सचिन ने उसे फोन करके न‍िहाल के घर बुलाया. प्रवीण जब न‍िहाल के घर पहुंचा तो वहां सच‍िन, गुल्‍लू, राहुल, श‍िवम, न‍ित‍िन और चंकी मौजूद थे. प्रवीण के मुताब‍िक वहां पर तमंचा रखा हुआ था, ज‍िसे चेक करने में गोली चल गई और वह सच‍िन को जा लगी. इससे सच‍िन की मौत हो गई.  गौरतलब है कि सहारनपुर में हुई हिंसा के दौरान  9 मई को महाराणा प्रताप जयंती पर आंबेडकर चौक पर सच‍िन वाल‍िया कि गोली लगने से मौत हो गई थी. सचिन  भीम आर्मी के ज‍िला अध्‍यक्ष कमल वाल‍िया के छोटे भाई थे.

इस मामले में आरोपी प्रवीण उर्फ मांडा न‍िवासी रामनगर को अरेस्‍ट क‍िए जाने के बाद मामले का खुलासा हुआ है. डीआईजी ने बताया क‍ि आरोपी प्रवीण ने बताया क‍ि 9 मई को वह अपनी दुकान पर था तभी सचिन ने उसे फोन करके न‍िहाल के घर बुलाया. प्रवीण जब न‍िहाल के घर पहुंचा तो वहां सच‍िन, गुल्‍लू, राहुल, श‍िवम, न‍ित‍िन और चंकी मौजूद थे. प्रवीण के मुताब‍िक वहां पर तमंचा रखा हुआ था, ज‍िसे चेक करने में गोली चल गई और वह सच‍िन को जा लगी. इससे सच‍िन की मौत हो गई.

गौरतलब है कि सहारनपुर में हुई हिंसा के दौरान  9 मई को महाराणा प्रताप जयंती पर आंबेडकर चौक पर सच‍िन वाल‍िया कि गोली लगने से मौत हो गई थी. सचिन  भीम आर्मी के ज‍िला अध्‍यक्ष कमल वाल‍िया के छोटे भाई थे.  

You May Also Like

English News