भूलकर भी धनतेरस पर न खरीदें ये चीजें, नहीं तो मालामाल की जगह हो जाएंगे कंकाल

17 अक्टूबर को धनतेरस है और उसके बाद दिवाली का त्योहार है। धनतेरस पर नए सामान की खरीदने की परंपरा है और यह काफी पुरानी है। ऐसी मान्यता है भगवान धनवंतरि जब समुद्र मंथन से उत्पन्न थे तब उनके हाथ में अमृत से भरा कलश था इसलिए इस दिन बर्तन खरीदने की परंपरा है। इस दिन खरीदारी करने से धन में 13 गुना की बढ़ोत्तरी होती है। लेकिन धनतेरस पर कुछ चीजों को खरीदने से बचना चाहिए। आइए जानते हैं कौन सी वस्तु नहीं खरीदनी चाहिए।भूलकर भी धनतेरस पर न खरीदें ये चीजें, नहीं तो मालामाल की जगह हो जाएंगे कंकाल

अगर इस तरह करेंगे शनिवार व्रत की पूजन, तो जल्द प्रसन्‍न होंगे शनिदेव

धनतेरस के दिन शीशे का सामान नहीं खरीदना चाहिए क्योंकि इसका संबंध राहु से होता है और राहु को नीच ग्रह माना जाता हैं।

 
कांच का सामान धनतेरस पर खरीदने से इस दिन शुभ फल की प्राप्ति नहीं होती है इसलिए भूलकर भी इस दिन कांच का कोई भी सामान नहीं खरीदना चाहिए।

धनतेरस पर एल्युमिनियम का बर्तन भी खरीदना वर्जित माना जाता है। इसका संबंध भी राहु से होता है इसलिए इसको शुभ नहीं माना जाता है। यही कारण कि एल्युमिनियम का प्रयोग पूजा-पाठ में नहीं किया जाता है।
 

धनतेरस के दिन किचेन में काम आने वाली वस्तुएं जैसे नुकीला वस्तु, चाकू और लोहे के बर्तन नहीं खरीदना चाहिए।
 

सोने के आभूषणों की बजाय हीरे और चांदी के अभूषण खरीदना अध‌िक शुभ रहेगा। सोना खरीदना हो तो ब‌िस्कुट या बॉड खरीदें लाभ होगा।

You May Also Like

English News