अब मंगलवार को चुना जायेगा पाकिस्तानी संसद का नया प्रधानमंत्री

इस्लामाबाद: पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ की जगह मंगलवार को पाकिस्तानी संसद एक नये प्रधानमंत्री का चुनाव करेगी. पाकिस्तानी सुप्रीम कोर्ट ने शुक्रवार को बेईमानी के आरोप में 67 वर्षीय शरीफ को अयोग्य ठहराते हुए उनके और उनके बच्चों के खिलाफ पनामा पेपर मामले में भ्रष्टाचार का मामला चलाने का आदेश दिया था. अदालत के फैसले के बाद शरीफ को कुर्सी से हाथ धोना पड़ा था.

ये भी पढ़ें : भारत के लिए सबसे अच्छे ऑलराउंडर साबित हो सकते हैं हार्दिक पांड्या- विराट कोहली

राष्ट्रपति ममनून हुसैन ने सदन का नया नेता चुनने के लिये पाकिस्तानी संसद के निचले सदन नेशनल असेंबली की बैठक मंगलवार दोपहर तीन बजे बुलाई है. नेशनल असेंबली सचिवालय ने भी अलग से नये प्रधानमंत्री के चुनाव के लिये कार्यक्रम की घोषणा की है. अधिसूचना के मुताबिक सचिव, नेशनल असेंबली के दफ्तर से शुक्रवार शाम तीन बजे के बाद से नामांकन पत्र हासिल किये जा सकते हैं. नामांकन पत्रों को कल दोपहर दो बजे तक जमा कराया जा सकता है और नेशनल असेंबली के अध्यक्ष उसी दिन तीन बजे नामांकन पत्रों की जांच करेंगे और उम्मीदवारों की अंतिम सूची की घोषणा करेंगे.
 
पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज (पीएमएल-एन) ने फिलहाल शाहिद खाकन अब्बासी को प्रधानमंत्री पद के लिये नामित किया है लेकिन बाद में वह शहबाज शरीफ को प्रधानमंत्री बनाये जाने के लिये रास्ता बनायेंगे. पाकिस्तान पहले भी इस तरह की व्यवस्था का गवाह बन चुका है.

ये भी पढ़ें : प्रो-कबड्डी लीग में चैंपियन पटना पाइरेट्स ने टाइटंस को दी पटखनी

पूर्व सैन्य तानाशाह जनरल परवेज मुशर्रफ के शासन के दौरान चौधरी शुजात हुसैन को अंतरिम प्रधानमंत्री बनाया गया था जबतक मुशर्रफ द्वारा नामित शौकत अजीज को सत्तारूढ़ पाकिस्तान मुस्लिम लीग कायद-ए-आजम (पीएमएलक्यू) द्वारा चुन नहीं लिया गया. आसिफ अली जरदारी की पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी (पीपीपी) और इमरान खान की तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) समेत विपक्षी दल छोटी पार्टियों के साथ मिलकर विपक्ष के संयुक्त उम्मीदवार को उतारने पर चर्चा कर रहे हैं. अब्बासी पार्टी के पुराने कार्यकर्ता हैं और पंजाब प्रांत में रावलपिंडी जिले के मुरी से आते हैं.
 
 

You May Also Like

English News