मधुमेह रोगियों के लिए जहर है गन्ने का जूस, जानिए कैसे होता इसका नुकसन

अपने पूरे दिन की थकान अगर आप भी एक गिलास गन्ने का रस पीकर मिटाते हैं तो थोड़ा सावधान हो जाइए। वैसे तो गन्ने का रस एक गुणकारी पेय है। इसमें कैल्शियम, पोटैशियम, आयरन, मैग्नेशियम और फॉस्फोरस जैसे कई आवश्यक पोषक तत्व पाए जाते हैं। साथ ही गन्ने का रस शरीर में खून के बहाव को भी ठीक रखता है।ये भी पढ़े: अगर मीठे के शौक से जुड़ा है याद्दाश्त खोने का खतरा, वक्त रहते संभल जाएं
बावजूद इसमें व्याप्त इतने गुणों के ये जूस कुछ लोगों के लिए खतरे की निशानी है। इसका सेवन उनकी सेहत के लिए हानिकारक हो सकता है। 

अगर आप बलगम या खांसी से परेशान हैं तो आपको गन्ने के जूस का सेवन नहीं करना चाहिए। ऐसा करने से आपके शरीर में कफ की समस्या और बढ़ जाएगी। 

अगर आपके पेट में कीड़े हैं या फिर आप पेट से जुड़ी किसी और परेशानी का सामना कर रहे हैं तो भी गन्ने का रस आपके लिए नहीं है। 

गन्ने का रस शरीर में शुगर की मात्रा बढ़ाता है। अगर आप मधुमेह के रोगी हैं तो आपको भी गन्ने का रस नहीं पीना चाहिए। 

अगर आपका वजन ज्यादा है तो भी आपको गन्ने का जूस नहीं पीना चाहिए। गन्ने के जूस में काफी मात्रा में कैलोरिज और शुगर होती है जो हमारे शरीर के लिए नुकसानदेह है।

ये भी पढ़े: लू से बचाने के अलावा खून भी साफ करता है बेल का जूस,लाभ

You May Also Like

English News