मध्यप्रदेश के कई जिलों में भारी बारिश, मौसम विभाग ने जारी की चेतावनी

मौसम विभाग ने आगले दो दिन भारी बारिश की चेतावनी जारी की है। प्रदेश के भोपाल, सीहोर, रायसेन, राजगढ़, विदिशा, होशंगाबाद, हरदा, बैतूल, बालाघाट, मंडला, सिवनी, अनूपपुर, डिंडोरी, सागर, दमोह, छिंदवाड़ा, नरसिंहपुर, आगर, शाजापुर, देवास एवं खंडवा में अगले 48 घंटे में भारी वर्षा की संभावना है।

सागर में भारी बारिश, भोपाल और विदिशा से सड़क संपर्क टूटा

सागर में देर रात 3 बजे से हो रही बारिश से जिले की नदी-नालों में उफान आ गया है। भारी बारिश से राहतगढ़-सागर मार्ग बंद हो गया, टूटी चौकी गांव के पुल व सड़क पर पानी आने से यातायात बाधिक हो गया है। लोगों का कहना है कि वर्षों बाद ऐसा हुआ है जब बरसात की वजह से सागर-राहतगढ़ मार्ग बंद हो गया है।

सागर-भोपाल, सागर-विदिशा, बंडा-बहरोल, मालथौन-खुरई मार्ग बंद हो गया है। धसान नदी के पुल पर पानी होने की वजह से आधी रात से सागर-बीना मार्ग बंद हो गया है, यहां वाहनों की लाइन बंद हो गई है। उधर सागर के आस-पास के जिलों में भी बारिश से हालात बेहाल है। दमोह में भी भारी बारिश से जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है।

उधर जिले के नरयावली थाना इलाके के हीरापुर गांव में रात 4 बजे घरों में पानी भर गया। धसान नदी के उफान पर आने के बाद लोग डूबे हुए घरों से जरूरी सामान लेकर सुरक्षित स्थानों की ओर जा रहे हैं। राहत और बचाव दल की टीम अभी गांव नहीं पहुंची है। बारिश से नरयावली स्टेशन से 3 किमी दूर स्थित धसान ब्रिज पर पानी खतरे के निशान पर पहुंच गया है। पानी बढ़ने से यहां ट्रेन का अवागमन बंद हो गया है।

दमोह : भारी बारिश से जनजीवन हुआ अस्त – व्यस्त

दमोह में कल रात से हो रही भारी बारिश से जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है। शहर और आसपास बहने वाले नदी-नाले उफान पर है । साथ ही शहर में भी कई जगहों पर घुटनों तक पानी भरा हुआ है। शहर से बाहर दूसरे शहरों में जाने वाले रास्तों पर भी जल जमाव से आवागमन पर प्रभाव पड़ा है।

आसपास के गांवों के रास्तों के नदी- नालों के उफान पर आने से शहर में आने वाली रोजमर्रा की जरूरी सामानों में कमी देखी जा रही है। इसमें दूध और सब्जियों की सप्लाई पर ज्यादा असर हुआ है। तेंदूखेड़ा से जबलपुर जाने वाले मार्ग पर भी घुटनों तक पानी भरा होने से आवागमन ठप हो गया है। पिछले 12 घंटों में करीब 8 इंच बारिश रिकॉर्ड की गई है।

रायसेन-विदिशा रोड पर अस्थाई पुलिया बही, रास्ता बंद

नेशनल हाइवे 146 रायसेन-विदिशा मार्ग पर एक अस्थाई पुलिया पानी में बह गई। इलाके में हो रही तेज बारिश से यहां बाढ़ आ गई थी। पुलिया बहने के बाद रायसेन-विदिशा मार्ग करीब 36 घंटे से भी ज्यादा समय से बंद है।अगले 48 घंटे में भी इस रास्ते के खुलने की कोई संभावना नहीं है। पुलिया के पास एक निर्माणाधीन पुल भी है। गौरतलब है कि भोपाल के आस-पास के इलाकों में मौसम विभाग ने तेज बारिश की चेतावनी दी थी। सागर और दमोह में भी तेज बारिश से जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है।

उधर भारी बारिश से रायसेन शहर की निचली बस्तियों के घरों में पानी भर गया। जिससे घर में रखा सारा सामान डूब गया। लोग घरों में निकलकर सुरक्षित स्थानों पर पहुंच रहे हैं। रायसेन जिले में बुधवार को दिनभर बारिश जारी रही, मेंदुआ के तालाब में दो युवक डूब गए, जिसमें से एक को बचा लिया गया, ज‍बकि दूसरे की तलाश जारी है। उधर सिलवानी के साईं खेड़ा पुल के पास एक अज्ञात व्यक्ति की लाश नदी में तैरती हुई मिली। लाश को देखकर बड़ी संख्या में ग्रामीण मौके पर पहुंच गए थे। पुलिस ने लाश को नदी से निकलवाकर पोस्टमार्टम के लिए पहुंचाया।

You May Also Like

English News