मनप्रीत बादल ने दिया बड़ा बयान: कहा- धक्का करते तो सुखबीर भाग गए होते विदेश…

पंजाब के वित्तमंत्री मनप्रीत सिंह बादल ने एक बार फिर अपने चचेरे भाई और अकाली दल के प्रधान सुखबीर बादल पर हमला बोला है। मनप्रीत बादल ने सुखबीर द्वारा अमरिंदर सर‍कार पर लगाए गए आरोप का जवाब दिया है। सुखबीर ने कहा था कि कांग्रेस सरकार अकाली दल के साथ धक्‍काशाही कर रही है। इस पर मनप्रीत ने कहा है कि कांग्रेस सरकार ने धक्का नहीं किया है। अगर धक्काशाही करते तो न बड़े बादल कार्यकर्ता सम्मेलन करते और न ही सुखबीर बादल देश में दिखाई देते। मजीठिया के साथ दोनों ही विदेश भाग गए होते।मनप्रीत बादल ने दिया बड़ा बयान: कहा- धक्का करते तो सुखबीर भाग गए होते विदेश... CM कैप्टन के लिए बड़ी मुसीबत बन सकते है सिद्धू, केबल टीवी टैक्‍स चोरी मामले पर ठनी..

चचेरे भाइयों में तेज होती जा रही है सियासी जंग

पूर्व मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल, पूर्व उप मुख्यमंत्री सुखबीर बादल ने कांग्र्रेस सरकार पर आरोप लगाए थे कि सरकार धक्काशाही कर रही है और अकाली कार्यकर्ताओं पर गलत तरीके से मामले दर्ज करवाए जा रहे हैं। इस पर मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा था कि अकाली निराशा में हैं और लोगों को गुमराह करने के लिए सभी किस्म के घटिया दांव-पेच अपनाने की कोशिश कर रहे हैं।

मनप्रीत बादल ने सुखबीर पर सीधा हमला बोलते हुए कहा कि यह गैरजिम्मेदाराना बयान है। लोगों को गुमराह करने की कोशिश है क्योंकि सरकार ने कोई धक्केशाही नहीं की है। इसका सबूत यही है कि सुखबीर बादल और बिक्रम सिंह मजीठिया अभी भी पंजाब में ही घूम रहे हैं। अगर सरकार की मंशा धक्का करने की होती तो न तो सुखबीर देश में होते और न ही मजीठिया।

उन्‍हाेंने कहा कि पूर्व मुख्यमंत्री को कार्यकर्ता सम्मेलन करने की जरूरत ही नहीं होती। मनप्रीत ने कहा कि सुखबीर केवल अपना चेहरा बचाने के लिए सरकार पर मामले दर्ज करने का आरोप लगा रहे हैं, जबकि पूरे पंजाब को पता है कि उनकी सरकार के दौरान क्या-क्या होता था। कांग्रेस सरकार किसी भी प्रकार के राजनीतिक विद्वेष में विश्वास नहीं रखती है।

सुखबीर ने कांग्रsस सरकार पर लगाए थे धक्केशाही के आरोप

यह पहला ऐसा मौका नहीं है जब मनप्रीत बादल और सुखबीर बादल आमने-सामने आए हों। लंगर की रसद पर लगने वाली जीएसटी को लेकर भी दोनों नेता भिड़ चुके हैं। अकाली दल ने तो रसद पर जीएसटी लगने को लेकर मनप्रीत बादल को जिम्मेदार ठहरा दिया था। मनप्रीत का कहना था कि सुखबीर की पत्नी केंद्रीय मंत्री हैं, वह सीधा यह मुद्दा केंद्रीय वित्तमंत्री अरुण जेटली के समक्ष क्यों नहीं रखतीं।

यही नहीं, किसान कर्ज माफी को लेकर अकाली दल ने वित्तमंत्री मनप्रीत बादल पर पर्चा दर्ज करने की मांग की थी। अकाली दल का कहना था कि मनप्रीत ने किसानों को गुमराह किया। अकाली दल द्वारा लगातार हो रहे हमले के बीच मनप्रीत बादल ने अब सुखबीर व अकाली दल पर तीखा हमला बोला है। दोनों भाइयों में सियासी जंग तेज होती जा रही है। 

You May Also Like

English News