‘मन की बात’ में PM ने कहा- एक महीने में दिखने लगे हैं GST के फायदे…

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 34वीं बार ‘मन की बात’ कार्यक्रम से देश को संबोधित कर रहे हैं. पीएम हर महीने के आखिरी रविवार को 11 बजे इस कार्यक्रम के माध्यम से देश को संबोधित करते हैं.'मन की बात' में PM ने कहा- एक महीने में दिखने लगे हैं GST के फायदे...लालू यादव बोले-शरद भाई आइए सभी मिलकर दक्षिणपंथी तानाशाही को नेस्तनाबूद करें

वर्षा जब विकराल रूप लेती है तब पता चलता है कि पानी की विनाश करने की भी कितनी ताकत होती है

-बाढ़ जैसी आपदाएं (प्रकृति का भीषण स्वरूप) बहुत विनाश कर देती हैं

-पर्यावरण में बदलाव का निगेटिव असर हो रहा है

-भारत के कई हिस्से बढ़ से जूढ रहे हैं व्यापक स्तर पर राहत कार्य हो रहे हैं, पूरी मॉनीटरिंग हो रही

-बाढ़ पीढ़ितों को मदद के भरकस प्रयास हो रहे हैं

-हमारे किसान भाइयों को बाढ़ से काफी नुकसान होता है, हमने बीमा कंपनियों को एक्टिव करने की योजना बनाई है

-बाढ़ से निपटने के लिए हेल्पलाइन 1078 लगातार काम कर रही है

-मौसम का पूर्वानुमान अब करीब सटीक निकलता है, हम भी इसके मुताबिक कार्यक्रम तय करें ताकि नुकसान से बच सकें

-मन की बात के लिए मुझसे ज्यादा देश के नागरिक तैयारी करते हैं

-जीएसटी को लेकर बहुत सारी चिट्ठियां और कॉल आईं

-जीएसटी को लागू हुए एक महीना हुआ, इसके फायदे दिखने लगे हैं

-जिस तेजी से नए रजिस्ट्रेशन हुए उसने पूरे देश में नया विश्वास पैदा किया है

-जीएसटी के प्रयोग को एक मॉडल के रूप में रिसर्च कर रखा जाएगा

-जीएसटी में ये सुनिश्चित किया गया कि गरीब की थाली पर कोई असर न हो 

-वन नेशन वन टैक्स का बड़ा सपना पूरा हुआ

-जीएसटी के जरिए सरकार और व्यापारियों के बीच दोस्ताना माहौल बना

-जीएसटी ऐतिहासिक उपलब्धि है, ये नई ईमानदारी की संस्कृति को बल प्रदान करने वाली व्यवस्था है

-एक अगस्त 1920 को असहयोग आंदोलन हुआ, 9 अगस्त 1942 को भारत छोड़ो आंदोलन हुआ तो 15 अगस्त को देश आजाद हुआ

-हम भारत छोड़ो आंदोलन की 75वीं वर्षगांठ मनाने जा रहे हैं

-भारत छोड़ो का नारा डॉक्टर यूसुफ मिहिर अली ने दिया था

-इतिहास के पन्ने भव्य भारत के निर्माण की हमारी प्रेरणा है

-अहयोग आंदोलन और भारत छोड़ो आंदोलन में महात्मा गांधी के दो अलग रूप दिखाई देते हैं

-भारत छोड़ो आंदोलन में महात्मा गांधी जैसे महापुरुष ने करो या मरो का नारा दे दिया

-भारत का पहला स्वतंत्रता संग्राम 1957 में हुआ, 1942 तक हर जगह कहीं न कहीं आंदोलन चलता रहा

-पीढ़ियां बदलती गईं लेकिन संकल्प में कोई कमी नहीं आई

पीएम इस कार्यक्रम के माध्यम से देश की जनता को जागरुक करना का काम तो करते ही हैं, साथ ही इससे आकाशवाणी को भारी राजस्व भी मिलता है. हाल ही में सूचना एवं प्रसारण राज्य मंत्री राज्यवर्धन सिंह राठौड़ ने लोकसभा में इससे जुड़ी जानकारी रखी. उन्होंने सदन को बताया कि पीएम मोदी के मन की बात कार्यक्रम से आकाशवाणी को 10 करोड़ की कमाई हुई है. उन्होंने बताया कि पिछले दो साल में मन की बात कार्यक्रम से ये राजस्व जमा हुआ है. राज्यवर्धन राठौड़ ने बताया कि 2015-16 वित्तीय वर्ष में आकाशवाणी को मन की बात कार्यक्रम से 4.78 करोड़ रुपये की कमाई हुई. जबकि 2016-17 वित्तीय वर्ष में ये राजस्व बढ़कर 5.19 करोड़ हो ग

loading...

You May Also Like

English News