मप्र: कांग्रेस ने किया उप-मुख्यमंत्री के नाम का एलान

विधानसभा चुनाव को लेकर सूबे में सगर्मिया तेज हो चली है. कांग्रेस में मुख्यमंत्री के चेहरे को लेकर सवाल अब तक कायम है. मगर इसी बीच कांग्रेस ने अपने डिप्टी सीएम पद के उम्मीदवार को लेकर एक बयान दिया है. कांग्रेस के प्रदेश प्रभारी दीपक बाबरिया ने बयान दिया है कि अगर मध्य प्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनेगी तो सुरेंद्र चौधरी उप मुख्यमंत्री बनेंगे.विधानसभा चुनाव को लेकर सूबे में सगर्मिया तेज हो चली है. कांग्रेस में मुख्यमंत्री के चेहरे को लेकर सवाल अब तक कायम है. मगर इसी बीच कांग्रेस ने अपने डिप्टी सीएम पद के उम्मीदवार को लेकर एक बयान दिया है. कांग्रेस के प्रदेश प्रभारी दीपक बाबरिया ने बयान दिया है कि अगर मध्य प्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनेगी तो सुरेंद्र चौधरी उप मुख्यमंत्री बनेंगे.  अनुसूचित जाति मोर्चा के कार्यक्रम में बोलते हुए प्रदेश प्रभारी दीपक बाबरिया ने कहा कि मध्य प्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनने पर दलितों को वरीयता दी जाएगी. इस आधार पर सुरेंद्र चौधरी इस पद के लिए बेहतर उम्मीदवार होंगे. बाबरिया ने कहा कि जमुना देवी जिस तरह मध्य प्रदेश में उप मुख्यमंत्री बनाई गईं थीं अगर प्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनीं तो सुरेंद्र चौधरी उप मुख्यमंत्री हो सकते हैं.  दीपक बाबरिया ने कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने सुरेंद्र चौधरी को खुद कार्यकारी अध्यक्ष बनाया है. बता दें कि सुरेंद्र चौधरी वर्तमान में कांग्रेस के कार्यकारी प्रदेश अध्यक्ष हैं. वहीं मध्य प्रदेश कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष सुरेंद्र चौधरी ने कहा कि पार्टी हाईकमान जो भी भूमिका तय करेगा, वो भूमिका निभाऊंगा. बाबरिया के इस एलान को प्रदेश के 16 फीसदी दलित वोटर से जोड़ा जा रहा है साथ ही इसे उन 35 सीटों पर फेका गया मास्टर कार्ड भी माना जा रहा है जो अनुसूचित जाति वर्ग के लिए आरक्षित हैं.

अनुसूचित जाति मोर्चा के कार्यक्रम में बोलते हुए प्रदेश प्रभारी दीपक बाबरिया ने कहा कि मध्य प्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनने पर दलितों को वरीयता दी जाएगी. इस आधार पर सुरेंद्र चौधरी इस पद के लिए बेहतर उम्मीदवार होंगे. बाबरिया ने कहा कि जमुना देवी जिस तरह मध्य प्रदेश में उप मुख्यमंत्री बनाई गईं थीं अगर प्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनीं तो सुरेंद्र चौधरी उप मुख्यमंत्री हो सकते हैं.

दीपक बाबरिया ने कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने सुरेंद्र चौधरी को खुद कार्यकारी अध्यक्ष बनाया है. बता दें कि सुरेंद्र चौधरी वर्तमान में कांग्रेस के कार्यकारी प्रदेश अध्यक्ष हैं. वहीं मध्य प्रदेश कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष सुरेंद्र चौधरी ने कहा कि पार्टी हाईकमान जो भी भूमिका तय करेगा, वो भूमिका निभाऊंगा. बाबरिया के इस एलान को प्रदेश के 16 फीसदी दलित वोटर से जोड़ा जा रहा है साथ ही इसे उन 35 सीटों पर फेका गया मास्टर कार्ड भी माना जा रहा है जो अनुसूचित जाति वर्ग के लिए आरक्षित हैं.

You May Also Like

English News