मप्र के किसान, नौजवान और महिला कांग्रेस का चेहरा- कमलनाथ

बहुजन समाज पार्टी और समाजवादी पार्टी के साथ गठबंधन को लेकर मध्यप्रदेश कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष और सांसद कमलनाथ ने बातचीत फ़िलहाल जारी रहने की बात कही. दूसरी ओर बसपा ने मध्यप्रदेश में किसी से भी गठबंधन नहीं करने की बात कही. प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी के खिलाफ पड़ने वाला वोट ना बंटे, इसके लिए बहुजन समाज पार्टी और समाजवादी पार्टी दोनों से कांग्रेस की बातचीत चल रही है. मध्यप्रदेश में शिवराज सिंह चौहान के चेहरे की ताकत को नकारते हुए कमलनाथ ने कहा उनकी पार्टी बीजेपी से मुकाबले के लिए तैयार है. उन्होंने कहा, ‘हमारा मुकाबला शिवराज सिंह की छवि से नहीं है. हमारा मुका़बला बीजेपी कैंडिडेट से नहीं है, उनके संगठन से है. ऐसे मुख्यमंत्री के नेतृत्व में हर वर्ग परेशान है. सब निराश हैं.’बहुजन समाज पार्टी और समाजवादी पार्टी के साथ गठबंधन को लेकर मध्यप्रदेश कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष और सांसद कमलनाथ ने बातचीत फ़िलहाल जारी रहने की बात कही. दूसरी ओर बसपा ने मध्यप्रदेश में किसी से भी गठबंधन नहीं करने की बात कही. प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी के खिलाफ पड़ने वाला वोट ना बंटे, इसके लिए बहुजन समाज पार्टी और समाजवादी पार्टी दोनों से कांग्रेस की बातचीत चल रही है. मध्यप्रदेश में शिवराज सिंह चौहान के चेहरे की ताकत को नकारते हुए कमलनाथ ने कहा उनकी पार्टी बीजेपी से मुकाबले के लिए तैयार है. उन्होंने कहा, ‘हमारा मुकाबला शिवराज सिंह की छवि से नहीं है. हमारा मुका़बला बीजेपी कैंडिडेट से नहीं है, उनके संगठन से है. ऐसे मुख्यमंत्री के नेतृत्व में हर वर्ग परेशान है. सब निराश हैं.'    कमलनाथ का कहना है वो मध्यप्रदेश में विधानसभा चुनाव के लिए प्रचार अभियान की रणनीति तैयार कर रहे हैं. हम अभी इस पर काम शुरू कर देंगे. हमारी लड़ाई बीजेपी संगठन से है. धनबल से है. हम मैदान में चले जाएं और पीछे कोई संगठन ना हो, कोई सिस्टमैटिक अप्रोच ना हो, तो ठीक नहीं. ’कमलनाथ का कहना है, किसी की छवि सुधारना हमारी जिम्मेदारी नहीं है, ’हमें किसी की छवि नहीं सुधारनी. वो 15 साल पहले की बात करते हैं, तो हम भी इतिहास की बात कर सकते हैं. इनका इतिहास क्या है ? एक भी व्यक्ति स्वतंत्रता सेनानी है.? बीजेपी पूरी तरह से कलाकारी की राजनीति पर निर्भर है, ध्यान मोड़ने की राजनीति पर. इसका हम मुकाबला करेंगे.’   कांग्रेस के सीएम के चेहरे वाले सवाल पर कमलनाथ ने घुमा फिराकर जवाब दिया और कहा ’ हमारे पास निराश किसान का चेहरा है, बेरोजगार नौजवान का चेहरा है, असुरक्षित महिला का चेहरा है.

कमलनाथ का कहना है वो मध्यप्रदेश में विधानसभा चुनाव के लिए प्रचार अभियान की रणनीति तैयार कर रहे हैं. हम अभी इस पर काम शुरू कर देंगे. हमारी लड़ाई बीजेपी संगठन से है. धनबल से है. हम मैदान में चले जाएं और पीछे कोई संगठन ना हो, कोई सिस्टमैटिक अप्रोच ना हो, तो ठीक नहीं. ’कमलनाथ का कहना है, किसी की छवि सुधारना हमारी जिम्मेदारी नहीं है, ’हमें किसी की छवि नहीं सुधारनी. वो 15 साल पहले की बात करते हैं, तो हम भी इतिहास की बात कर सकते हैं. इनका इतिहास क्या है ? एक भी व्यक्ति स्वतंत्रता सेनानी है.? बीजेपी पूरी तरह से कलाकारी की राजनीति पर निर्भर है, ध्यान मोड़ने की राजनीति पर. इसका हम मुकाबला करेंगे.’कांग्रेस के सीएम के चेहरे वाले सवाल पर कमलनाथ ने घुमा फिराकर जवाब दिया और कहा ’ हमारे पास निराश किसान का चेहरा है, बेरोजगार नौजवान का चेहरा है, असुरक्षित महिला का चेहरा है.

You May Also Like

English News