ममेरे भाई ने किया 10 साल की लड़की के साथ बलात्कार..

देश की राजधानी दिल्ली में फिर से बलात्कार की एक शर्मनाक वारदात सामने आई है. जिसमें 17 वर्षीय किशोर ने अपनी नाबालिग बहन के साथ बलात्कार की वारदात को अंजाम दे डाला. यही नहीं आरोपी ने इस बारे में किसी को बताने पर पीड़िता को धमकी भी दे डाली. पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है.ममेरे भाई ने किया 10 साल की लड़की के साथ बलात्कार..पश्चिम देशों के शक्तिशाली नाटो को टक्कर देगा SCO, जाने भारत को जुड़ने का क्या होगा फायदा?

मामला बाहरी दिल्ली के मंगोलपुरी थाना क्षेत्र का है. जहां दस वर्षीय लड़की अपने परिवार के साथ रहती है. मंगलवार की शाम लड़की घर का कुछ सामान लेकर आ रही थी. तभी पड़ोस में रहने वाले उसके 17 वर्षीय ममेरे भाई ने उसे रोककर कहा कि ‘तुझे मेरी मम्मी ने बुलाया है’, ये सुनकर लड़की उस किशोर के साथ उसके घर चली गई.

पीड़ित बच्ची की मानें तो आरोपी किशोर अपने घर में जाकर दरवाजा अंदर से बंद कर लिया. फिर अपने कपड़े उतारकर बच्ची के साथ बलात्कार की वारदात को अंजाम दिया. घटना के बाद किशोर ने बच्ची को धमकी दी कि अगर उसने किसी को इस बारे में बताया तो वह उसके छोटे भाई को जान से मार देगा.

वारदात के बाद लड़की अपने घर पहुंची और अपनी दादी से दर्द होने की शिकायत की. जब दादी ने पूछताछ की तो लड़की ने रोते हुए अपनी दादी आपबीती सुनाई. लड़की की बात सुनकर दादी के होश उड़ गए. लेकिन गरीबी और आरोपी की धमकी के चलते पीड़ित परिवार ने पुलिस को शिकायत नहीं की.

पीड़िता के पिता का कुछ माह पहले ही देहांत हो गया था. दादी भी बीमार रहती है. उसके दो छोटे भाई भी हैं. घर का सारा बोझ मां के कंधों पर है. लिहाजा परिवार डरा और सहमा हुआ था. कुछ स्थानीय लोगों को जब इस घटना की सूचना मिली तो उन्होंने एक एनजीओ की कार्यकर्ता शोभा को इस बारे में बताया.

शोभा ने पीड़िता के परिजनों की काउंसलिंग की. जिसके बाद मामले की सूचना पुलिस को दी गई. पुलिस ने बलात्कार का मामला दर्ज कर आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है. आरोपी परिवार के लोग इलाके के दबंग हैं. आरोपी लड़का भी आसपास के अपराधी किस्म के लोगों के साथ रहता है और नशा करता है.

वारदात के बाद से ही आरोपी के दोस्त और परिजन पीड़ित परिवार के घर जाकर झगड़ा कर रहे हैं. वे केस वापस लेने के लिए पीड़ित परिवार को डरा धमका रहे हैं. पीड़ित परिवार को अंजाम भुगतने की धमकी दे रहे हैं. लेकिन एनजीओ और ज्यादातर पड़ोसी बच्ची के साथ खड़े हैं. कोर्ट ने आरोपी को बालसुधार गृह भेज दिया है.

You May Also Like

English News