महाराष्ट्र: खिड़कियों और छतों पर चढ़कर छात्रों को नकल करवाते पकड़े गए परिजन

पुणे के नजदीक लोणी कालभोरगांव में एमआईटी गुरुकुल कॉलेज में महिला कर्मचारियों द्वारा कुछ दिनों पहले छात्राओं की चेकिंग की गई थी, उस समय छात्राओं ने आरोप लगाया था कि चेकिंग करते समय उनके साथ अश्लील हरकत की गई. इस मामले में पुलिस जांच अभी चल ही रही थी कि महाराष्ट्र के बुलढाणा जिले से सामूहिक नकल करने का मामला सामने आया है.महाराष्ट्र: खिड़कियों और छतों पर चढ़कर छात्रों को नकल करवाते पकड़े गए परिजनयहां छात्र चीटिंग करते देखे गए, इतना ही नहीं कॉपी और चिट्ठियां छात्रों को देने के लिए उनके दोस्त और परिजन कॉलेज की छतों, खिड़कियों और बाथरूम पाइप पर चढ़े नजर आए. यह सिलसिला अभी से नहीं बल्कि कई सालों से चल रहा है.

ये मामला महाराष्ट्र के बुलढाणा जिले के संग्रामपुर तहसील के जिला परिषद स्कूल का है. जहां दसवीं बोर्ड के भूमिति का पेपर था और यहां का माहौल देखकर लग रहा था मानों यहां विद्यार्थियों को नकल पहुंचाने शर्त लगी हो. हैरान करने वाली बात यह है कि नकल पहुंचाने वाले लोग परीक्षा केंद्र प्रशासन और पुलिस प्रशासन की नाक के नीचे ही नकल पहुंचाने का काम करते हैं.  

अमरावती बोर्ड के सचिव संजय यादगिरे ने आजतक को बताया कि इस परेशानी से उबरने के लिए और कड़े इंतजाम करेंगे. उन्होंने बताया कि नकल ना हो इसके लिए शिक्षणाधिकारी को कड़े इंतजाम के आदेश दिए गए हैं. साथ ही केंद्र चालक से इस संबंध में जवाब भी मांगा है. बोर्ड के सचिव ने बताया कि बुधवार को नकल करने के कारण 58 छात्रों को रेस्टीकेट किया गया है.

You May Also Like

English News