महिलाओं के प्रति संवेदनहीनता पर CM योगी आदित्यनाथ सख्त, एसपी सम्भल व प्रतापगढ़ निलंबित

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ प्रदेश में महिलाओं के साथ हुई घटनाओं पर गंभीरता न दिखाने को लेकर बेहद गंभीर हैं। सूबे में महिलाओं के प्रति जघन्य घटनाओं में वक्त रहते प्रभावी कार्रवाई न करना सम्भल व प्रतापगढ़ के पुलिस कप्तानों को भारी पड़ा। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के निर्देश पर एसपी सम्भल राधे मोहन भारद्वाज व एसपी प्रतापगढ़ संतोष कुमार सिंह को निलंबित कर दिया गया है।

सम्भल में महिला व प्रतापगढ़ में छात्रा की हत्या के मामलों में स्थानीय पुलिस ने कार्रवाई में शिथिलता बरती। महिलाओं के प्रति अपराधों में त्वरित कार्रवाई का संदेश देने वाले मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इन घटनाओं को बेहद गंभीरता से लिया है। मुख्यमंत्री के निर्देश पर एसपी सम्भल राधे मोहन भारद्वाज व एसपी प्रतापगढ़ संतोष कुमार सिंह को निलंबित कर दिया गया है। दोनों एसपी के खिलाफ विभागीय कार्रवाई का निर्देश भी दिया गया है। इसके साथ ही यमुना प्रसाद को एसपी सम्भल व देव रंजन वर्मा को एसपी प्रतापगढ़ बनाया गया है।

प्रतापगढ़ में 16 वर्षीय छात्रा को अगवा कर उसकी हत्या कर दी गई। उसका शव पेड़ से लटका मिला था। आइजी रमित शर्मा ने कल एसओ बाघराय सियाराम वर्मा को निलंबित किया था। वहीं इस मामले में पुलिस ने तीन आरोपितों को गिरफ्तार किया है। सम्भल में महिला को सामूहिक दुष्कर्म के बाद जिंदा जलाए जाने की दुस्साहसिक घटना सामने आई है। इस वारदात ने पुलिस कार्रवाई पर बड़े सवाल उठाए हैं।

प्रतापगढ़ जिले के बाघराय थाना क्षेत्र के काशीपुर में छात्रा की अगवाकर हत्या और संभल में महिला के साथ गैंगरेप में नाकाम होने पर उसे जिंदा जलाने के मामले में योगी आदियत्नाथ सरकार ने सख्त कदम उठाए हैं। योगी आदित्यनाथ सरकार ने दोनों ही जिलों के पुलिस अधीक्षक को निलंबित कर दिया है।

प्रतापगढ़ जिले के बाघराय थाना क्षेत्र के काशीपुर में एक 16 साल की लड़की आटा चक्की से अपने घर लौट रही थी। दबंगों ने लड़की को रास्ते से अगवा कर लिया और उसकी हत्या कर दी। हत्या को आत्महत्या दिखाने के लिए उन्होंने शव को एक पेड़ से लटका दिया। इस मामले में पहले पुलिस ने काफी लापरवाही बरती उसके बाद इस मामले में दो दबंगों को गिरफ्तार किया गया।

सम्भल में गांव के दबंगों ने महिला के साथ सामूहिक दुष्कर्म का प्रयास किया। नाकाम होने के बाद हैवानों ने महिला को जिंदा जला दिया और मौके से फरार हो गए। इस घटना के बाद इलाके में खलबली मच गई। घटना रजपुरा थाना के पाठकपुर गांव की है। पीडि़ता के परिवार के लोगों का आरोप है कि गांव के ही चार दबंग युवक आए दिन महिला के साथ छेड़छाड़ किया करते थे।

शुक्रवार को महिला ने इन दबंगों की छेडख़ानी का विरोध किया, तो उनके बीच कहासुनी हो गई थी। इसी बात को लेकर इन युवकों ने पहले तो महिला के घर में घुसकर मारपीट की और फिर उसे घर से उठाकर ले गए। परिजनों के मुताबिक, महिला के साथ सामूहिक दुष्कर्म में नाकाम होने पर उन लोगों ने उस झोपड़ी को ही आग के हवाले कर दिया, जिसमें उन्होंने महिला को बंद कर रखा था। महिला की मौत हो गई। 

You May Also Like

English News