इन महिलाओं ने खींची हैं ये तस्वीरें, कमजोर दिल वाले नहीं कर सकते ऐसा काम…

युद्ध में सबसे ज्यादा क्रूरता और हिंसा होती है। विवादग्रस्त क्षेत्रों में खून, आतंक, चोट, खौफ के नजारे आम होते हैं। इसलिए सारी दुनिया में भरसक कोशिश की जाती है कि युद्ध और विवाद से अपनी महिलाओं को दूर रखा जाए।इन महिलाओं ने खींची हैं ये तस्वीरें, कमजोर दिल वाले नहीं कर सकते ऐसा काम...

शादी के दिन दूल्हा-दुल्हन के साथ स्टेज पर हो गई ऐसी घटना, जिसकी वजह से हुआ बवाल…

दर्दनाक मौत देखकर अच्छे-अच्छों के दिल कांप जाते हैं। ऐसे में, कोई महिला अपनी जान जोखिम में डालकर खुद ही ऐसे हिंसाग्रस्त क्षेत्रों में पहुंच जाए, तो उसकी बहादुरी की दाद देनी पड़ेगी। हम आपको दिखा रहे हैं ऐसी ही दिलेर महिला फोटोजर्नलिस्ट्स द्वारा खींची गई फोटोज।

चित्र परिचय: दो फलस्तीनी बच्चों- 15 साल का अमीर मुस्तफा आरिफ और 12 साल का मोहम्मद आरिफ- की डेड बॉडीज के आसपास मातम मनाते और प्रार्थना करते रिश्तेदार। तस्वीर गाजा सिटी के शेजाइया इलाके में स्थित मस्जिद की। 9 जुलाई, 2014 को दोनों बच्चे अपने घर के पास एक ड्रोन हमे में मारे गए थे। इसके लिए इजरायल की सेना को दोषी ठहराया गया था।

You May Also Like

English News