तो इसलिए, महिलाओं में शादी के बाद बढ़ जाती है, पॉर्न देखने में दिलचस्पी

लंदन। शादी से पूर्व जहां पुरूष ज्यादा पॉर्न देखते हैं, वहीं महिलाएं शादी के बाद ज्यादा पॉर्न देखना पसंद करती है। एक स्टडी में इस बात का पता चला है कि शादी के बाद महिलाएं ज्यादा पॉर्न देखती हैं।तो इसलिए, महिलाओं में शादी के बाद बढ़ जाती है, पॉर्न देखने में दिलचस्पी

एक अंग्रेजी मैगजिन में प्रकाशित रिपोर्ट में इस बात का खुलासा हुआ है कि शादी के बाद महिलाओं में पॉर्न को लेकर ज्यादा झुकाव होता है, जबकि पुरूषों में इसको देखने की चाहत कम हो जाती है। रिसर्च में इस बात का पता लगाने के लिए सौ से अधिक शादीशुदा महिला और पुरूषों का इंटरव्यू लिया गया।

ये सारे काम हैं जो गर्लफ्रैंड मिलने के बाद ही करते हैं लड़के

इस रिसर्च का मतलब इस बात का पता लगाना था कि शादी से पूर्व और बाद में सेक्सुअलिटी के प्रति किस तरह का बदलाव आता है। शादीशुदा महिलाओं से जब पॉर्न देखने की बात पूछी गई तो नौ प्रतिशत महिलाओं ने बताया कि वो शादी से पूर्व पॉर्नोग्राफी देखती थी, वहीं 28 प्रतिशत महिलाओं ने बताया कि वो शादी के बाद से पॉर्न देखना शुरू कीं।

वहीं दूसरी तरफ जब पॉर्न को लेकर शादीशुदा पुरूषों से बात की गई तो 23 प्रतिशत ने पुरूष ने कहा कि उन्‍होंने शादी से पहले पॉर्न देखा वहीं 14 प्रतिशत ने माना कि उन्‍होंने शादी के बाद पॉर्नोग्राफी देखा।

करते रहेंगे योग तो बुढ़ापे में नहीं होगी याददाश्त की कोई दिकात..

रिसर्च में इस बात का पता चलता है कि शादी से पहले पुरूष ज्यादा पॉर्न देखते है, वहीं शादी हो जाने के बाद महिलाओं की पॉर्न देखने में दिलचस्पी होती है। शोधकर्ता के अनुसार शादी के बाद पुरुषों में पॉर्न देखने को लेकर इसलिए कमी आ जाती है क्‍योंकि वे समाज में अपनी सामाजिक-आर्थिक हैसियत को स्‍थापित करने में ज्‍यादा मशगूल हो जाते हैं।

इस कारण से उनकी प्राथमिकता सेक्‍सुअल फंतासी से हटकर अपनी पार्टनर के संग सेक्‍स संबंध बनाने की तरफ अग्रसर हो जाती है। दूसरी तरफ, महिलाएं शादी के बाद ज्‍यादा पॉर्न इसलिए देखती हैं क्‍योंकि ऐसा होने के बाद उन्‍हें सामाजिक कलंक या अन्‍य किसी तरह का डर नहीं होता। वो बिना किसी डर और संकोच के पॉर्न देख सकती है।

You May Also Like

English News