महिला क्रिकेट कप्‍तान हरमनप्रीत का DSP पद छिना, कांस्‍टेबल बनाने की तैयारी

भारत की स्‍टार महिला क्रिकेटर और भारतीय महिला टी-20 क्रिकेट टीम की कप्तान हरमनप्रीत कौर को बड़ा झटका लगा है। हरमनप्रीत का पंजाब पुलिस में डीएसपी पद छीन लिया गया है। उनकी बीए की डिग्री नकली पाए जाने पर पंजाब सरकार ने उनका डीएसपी रैंक छीन लिया है और उनको कांस्‍टेबल बनाया जा रहा है। अर्जुन पुरस्कार विजेता हरमनप्रीत के बीए के सर्टिफिकेट पर पंजाब पुलिस ने जांच के बाद सवाल उठाए थे।बताया जाता है कि पंजाब पुलिस ने हरमनप्रीत को पत्र लिखकर कहा है कि उनकी शिक्षा मात्र 12वीं तक है। ऐसे में उनको सिर्फ कांस्टेबल की नौकरी मिल सकती है। दूसरी ओर, पंजाब पुलिस के सूत्रों का कहना है कि अभी इस बारे में कोई अाधिकारिक निर्णय नहीं किया गया है। पंजब पुलिस ने अभी सरकार को अभी यह लिखा है कि हरमनप्रीत ग्रजुएट नहीं है और ऐसे में उनको डीएसपी पद पर नहीं रखा जा सकता है।  नकली सर्टिफिकेट मामले में रेलवे से रिपोर्ट मिलने के बाद कदम उठाया, परिवार बोला कोई जानकारी नहीं   महिला क्रिकेट कप्‍तान हरमनप्रीत की डिग्री का मामला रेलवे तक पहुंचा, जांच में तेजी यह भी पढ़ें दूसरी ओर, हरमनप्रीत ने इस बारे में कोई अाधिकारिक सूचना नहीं मिलने की बात कही है। हरमनप्रीत कौर के ग्रेजुएशन के सर्टिफिकेट के मामले में पंजाब सरकार ने रेलवे से जानकारी मांगी थी। वहां से रिपोर्ट मिलने के बाद पंजाब सरकार ने कार्रवाई की है। पंजाब सरकार की कार्रवाई के बारे में पता में पूछे जाने पर हरमनप्रीत कौर के मैनेजर ने कहा, ' हमें हरमनप्रीत को नौकरी से हटाए जाने के बारे में पंजाब पुलिस की ओर से आधिकारिक पत्र नहीं मिला है। इस मामले में डिग्री को लेकर कुछ समस्‍या है, लेकिन यही सर्टिफिकेट रेलवे में जमा किए गए थे। ऐसे में ये फर्जी कैसे हो सकते हैं।'     कैप्‍टन से मिलकर हरमनप्रीत का बदला मन, पंजाब में बनेंगी डीएसपी यह भी पढ़ें हरमनप्रीत कौर के पिता हरमंदर सिंह का कहना है कि इस बारे में उनको जानकारी नहीं है। फोन पर इस बारे में पूछे जाने पर हरमंदर सिंह ने कहा कि इस बारे में हरमनप्रीत ही बता सकती है। परिवार को पंजाब सरकार की ओर से कोई जानकारी नहीं मिली है, जब सूचना मिलेगी तो देखेंगे कि क्‍या करना है।

बताया जाता है कि पंजाब पुलिस ने हरमनप्रीत को पत्र लिखकर कहा है कि उनकी शिक्षा मात्र 12वीं तक है। ऐसे में उनको सिर्फ कांस्टेबल की नौकरी मिल सकती है। दूसरी ओर, पंजाब पुलिस के सूत्रों का कहना है कि अभी इस बारे में कोई अाधिकारिक निर्णय नहीं किया गया है। पंजब पुलिस ने अभी सरकार को अभी यह लिखा है कि हरमनप्रीत ग्रजुएट नहीं है और ऐसे में उनको डीएसपी पद पर नहीं रखा जा सकता है।

नकली सर्टिफिकेट मामले में रेलवे से रिपोर्ट मिलने के बाद कदम उठाया, परिवार बोला कोई जानकारी नहीं

दूसरी ओर, हरमनप्रीत ने इस बारे में कोई अाधिकारिक सूचना नहीं मिलने की बात कही है। हरमनप्रीत कौर के ग्रेजुएशन के सर्टिफिकेट के मामले में पंजाब सरकार ने रेलवे से जानकारी मांगी थी। वहां से रिपोर्ट मिलने के बाद पंजाब सरकार ने कार्रवाई की है। पंजाब सरकार की कार्रवाई के बारे में पता में पूछे जाने पर हरमनप्रीत कौर के मैनेजर ने कहा, ‘ हमें हरमनप्रीत को नौकरी से हटाए जाने के बारे में पंजाब पुलिस की ओर से आधिकारिक पत्र नहीं मिला है। इस मामले में डिग्री को लेकर कुछ समस्‍या है, लेकिन यही सर्टिफिकेट रेलवे में जमा किए गए थे। ऐसे में ये फर्जी कैसे हो सकते हैं।’

हरमनप्रीत कौर के पिता हरमंदर सिंह का कहना है कि इस बारे में उनको जानकारी नहीं है। फोन पर इस बारे में पूछे जाने पर हरमंदर सिंह ने कहा कि इस बारे में हरमनप्रीत ही बता सकती है। परिवार को पंजाब सरकार की ओर से कोई जानकारी नहीं मिली है, जब सूचना मिलेगी तो देखेंगे कि क्‍या करना है।

You May Also Like

English News