महिला वर्ल्ड कप में ऑस्ट्रेलिया ने जीता टॉस, भारत करेगा पहले बल्लेबाजी…

महिला विश्व कप के एक अहम मुकाबले में भारत का सामना ऑस्ट्रेलिया से होना है. ऑस्ट्रेलिया की कप्तान टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी का फैसला किया है. ऑस्ट्रेलिया टूर्नामेंट के पांचों मैच जीतकर टॉप पर है, जबकि भारत ने इतने ही मैचों में चार जीत दर्ज की है.भारतीय कप्तान मिताली राज पर खास तौर पर सबकी नजरें रहेंगी. वह 34 रन बनाने के साथ वनडे क्रिकेट इतिहास में सबसे अधिक रन बनाने का विश्व रिकॉर्ड अपने नाम कर सकती हैं. पिछली पारी में वह अपने करियर में पहली बार शून्य पर आउट हो गई थीं.

महिला वर्ल्ड कप में ऑस्ट्रेलिया ने जीता टॉस, भारत करेगा पहले बल्लेबाजी...

भारत टूर्नामेंट में अब तक पांच में से तीन मुकाबलों में टॉस जीतने में सफल रहा है. अब दुनिया की नंबर एक टीम के खिलाफ अगर किस्मत ने उसका साथ दिया तो वह टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करना चाहेगा. भारत के पिछले साल के ऑस्ट्रेलियाई दौरे पर स्मृति मंधाना और मिताली ने दूसरी सबसे बड़ी साझेदारी करते हुए 150 रन जोड़े थे. हरमनप्रीत कौर को टीम की अनुभवी हरनफनमौला खिलाड़ी के तौर पर अपनी उपयोगिता साबित करनी होगी.

वैसे पिछले मैच में टीम इंडिया को द.अफ्रीका से बड़ी हार मिली थी लेकिन इसके बावजूद उसके हौसले बुलंद होंगे क्योंकि उसके खिलाड़ी अच्छी फॉर्म में हैं. ऑस्ट्रेलिया ने भी टूर्नामेंट में अच्छा प्रदर्शन किया है लेकिन उसे भी इंग्लैंड के खिलाफ हार का मुंह देखना पड़ा था. रोमांचक मुकाबले में ऑस्ट्रेलिया 3 रन से मैच गंवा बैठा था.

ऑस्ट्रेलिया का पलड़ा भारी

मौजूदा चैंपियन ऑस्ट्रेलिया का पलड़ा टीम इंडिया पर खासा भारी है. ऑस्ट्रेलिया ने टीम इंडिया से 33 मैच जीते हैं और सिर्फ 8 मैचों में उसे हार झेलनी पड़ी है. ऑस्ट्रेलिया की बल्लेबाज शानदार फॉर्म में हैं. उसके 4 बल्लेबाजों का औसत टूर्नामेंट में 50 से ज्यादा है. मैग लेनिंग 84.00, एलिस पैरी 83.66 एलिसा हीली 77.00 और निकोल बोल्टन 55.50 के औसत से रन बना रही हैं.

टीम इंडिया की बल्लेबाजी में है गहराई

 भारतीय बल्लेबाजी में गहराई है और 9वें नंबर तक उसके पास बल्लेबाजी करने वाली खिलाड़ी हैं, लेकिन उन्हें स्ट्राइक को रोटेट करते रहना होगा. ये काम इतना आसान नहीं है, क्योंकि ब्रिस्टल में पहली बार खेलते हुए उसका पाला एक खतरनाक गेंदबाजी आक्रमण से पड़ रहा है. वैसे भारत की ओर से स्मृति मंदाना ने 52.50, दीप्ति शर्मा ने 43 के औसत से रन बनाए हैं. कप्तान मिताली राज के बल्ले से भी 35.60 के औसत से रन निकले हैं.

गेंदबाजी में कितनी धार?

गेंदबाजी की बात करें तो ऑस्ट्रेलिया के लिए लेग स्पिनर क्रिस्टन बीम्स ने सबसे ज्यादा 9 और बाएं हाथ की स्पिनर जेस जोनेस्सन ने 7 विकेट झटके हैं. टीम इंडिया के स्पिनर्स का भी प्रदर्शन अच्छा ही रहा है.

एकता बिष्ट ने 9 विकेट और दीप्ति शर्मा ने 7 विकेट हासिल किए हैं. ऐसे में इस मैच में भी स्पिनर्स जीत-हार तय कर सकते हैं. इस समय भारतीय टीम पूल में तीसरे स्थान पर है. ऑस्ट्रेलिया के बाद उसे अपने अंतिम राउंड रॉबिन लीग मैच में न्यूजीलैंड से खेलना है. उम्मीद की जानी चाहिए कि भारत अच्छे औसत के साथ अच्छी जीत दर्ज कर सके.

You May Also Like

English News