महिला हॉकी: भारतीय टीम ने कजाकिस्तान को 21-0 से रौंदा, फिर भी रिकॉर्ड से चूकी

भारतीय महिला हॉकी टीम ने मंगलवार को गोलों की बारिश करते हुए 18वें एशियाई खेलों के अपने दूसरे ग्रुप मैच में कजाकिस्तान को 21-0 से रौंद डाला. भारतीय महिला हॉकी टीम की चार खिलाड़ियों ने हैट्रिक बनाई, पूल बी के मैच में भारत ने 18 खिलाड़ियों को आजमाया, जिसमें से 10 गोल करने में सफल रहीं.

टीम हालांकि 22-0 के एशियाई खेलों के रिकॉर्ड से एक गोल से चूक गई. भारतीय महिला हॉकी टीम ने 1982 एशियाई खेलों में हांगकांग को 22-0 से हराया था. स्टार खिलाड़ी रानी रामपाल और सविता के बिना उतरी भारतीय टीम के लिए इस एकरफा जीत में गुरजीत ने सातवें, 36वें, 44वें और 52वें, नवनीत कौर ने 11वें, 12वें, 49वें, वंदना कटारिया ने 29वें और 37वें और 53वें, लालरेमसियामी ने नौवें, 19वें और 30वें मिनट में गोल कर अपनी हैट्रिक पूरी की.

इसके अलावा उदिता ने 34वें, दीप ग्रेस एक्का ने 43वें, लिलिमा मिंज ने 38वें और 44वें, नेहा ने 10वें, नवजोत ने 16वें और 54वें और मोनिका ने 55वें मिनट में गोल दागे. एशियाई खेल 2014 में कांस्य पदक जीतने वाली भारतीय महिला टीम एफआईएच तालिका में नौवें, जबकि कजाकिस्तान 34वें स्थान पर है. भारत टूर्नामेंट की सबसे बेहतर रैंकिंग वाली टीम है. ग्रुप-बी में भारत में अपने पहले मैच में मेजबान इंडोनेशिया को 8-0 करारी मात दी थी. भारतीय टीम अब 25 अगस्त को दक्षिण कोरिया के खिलाफ मैदान में उतरेगी. 

You May Also Like

English News