मानसून का कहर: भारी बारिश से 500 करोड़ की सड़क पानी में बही

भारी बारिश से पिछले दो साल में शहर में बनी करीब पांच सौ करोड़ रुपये की सड़कें बह गईं। महानगरपालिका की जांच में पता चला है कि अधिकारियों की मिलीभगत से ठेकेदारों ने सड़क निर्माण में घटिया सामग्री लगाई और डामर का उपयोग ही नहीं किया।मानसून का कहर: भारी बारिश से 500 करोड़ की सड़क पानी में बहीकांग्रेस को लगा बड़ा झटका, सात विधायकों ने विस की सदस्यता से दिया इस्तीफा

गुजरात में इस बार मानसून खूब मेहरबान रहा। राज्य के 26 में से 18 जिलों में बाढ़ के हालात रहे जिनमें से बनासकांठा और पाटण में तो भारी तबाही हुई। अहमदाबाद में भी बारिश से प्रमुख सड़कें रेती और कपची में बदल गईं। प्रारंभिक जांच में पता चला कि बीते दो साल में अहमदाबाद महानगरपालिका का सड़क निर्माण का 750 करोड़ रुपये का बजट था।

जानलेवा ऑनलाइन गेम ‘ब्लू ह्वेल चैलेंज’ से बचाया गया नौवीं का छात्र…

महापौर गौतम शाह ने हो-हल्ला मचते ही सड़क बहने की जांच विजिलेंस शाखा को सौंप दी। जांच अधिकारियों का मानना है कि करीब 548 करोड़ रुपये के सड़क निर्माण में घटिया सामग्री का उपयोग किया गया। मनपा ने दस ठेकेदारों को ब्लैक लिस्ट कर उनके 70 करोड़ रुपये का भुगतान रोक दिया है और 33 सड़कों को फिर से बनाने को कहा है।

You May Also Like

English News