जब बेटी बोली- पापा आप मुझे बेशक मर जाने दो, लेकिन मेरी छोटी बहन की जिंदगी बचा लो…

आज हम आपको एक ऐसी सच्ची घटना के बारे में बताने जा रहे है जिसको सुनकर आपकी भी आँखों में आंसू आ जाएंगे। कहते हैं दुनिया में प्यार और त्याग से बड़ी चीज कुछ भी नहीं है। जिस किसी के अंदर भी ये गुण होता है दुनिया की नजरों में उसका सम्मान काफी बढ़ जाता है। चीन के हेनान की रहने वाली 7 साल की वांग यू (Wang Yue) भी अपने प्यार और त्याग की वजह से इन दिनों चर्चा में है और लोग उसकी तारीफ कर रहे हैं। दरअसल, वांग रेयर बोन डिजीज से ग्रसित है। लेकिन, अपनी छोटी बहन की खातिर उसने इलाज करवाने से इनकार कर दिया है।जब बेटी बोली- पापा आप मुझे बेशक मर जाने दो, लेकिन मेरी छोटी बहन की जिंदगी बचा लो…

जानिए आखिर उसने ऐसा क्यों किया?…

एक वेबसाइट के मुताबिक, वांग क्लास एक की छात्रा है और ‘Osteopetrosis’ नामक बीमारी से ग्रसित है। इसके कारण दिन ब दिन उसकी हालत बिगड़ती जा रही है और डॉक्टर्स का कहना है कि उसकी जान को भी खतरा हो सकता है। इसलिए, उसका मॉडर्न उपचार करना जरूरी हो गया। लेकिन, हाल ही में उसने अपनी बीमारी का इलाज करवाने से इनकार कर दिया और हर दिन चाइनीज ट्रेडिशनल दवा ही ले रही है। वो सारा पैसा अपनी एक साल की छोटी बहन के लिए बचाना चाहती है, क्योंकि वो भी इसी बीमारी की शिकार है। हालांकि, उसके पिता ने इस बीमारी के सही इलाज के बारे में पता भी लगा लिया था और अपनी दोनों बेटियों का सर्जरी करवाने का फैसला भी कर लिया था। लेकिन, जब इलाज के खर्च के बारे में पता चला तो सबके पैरों तले जमीन खिसक गई।

बकरीद के खाश मौके पर भी बकरों को नहीं मिल रहे खरीददार

एक बच्चे की इलाज पर होंगे 47 लाख रुपए खर्च…

डॉक्टर्स के मुताबिक, एक बच्चे की इलाज पर 47 लाख रुपए (500,000 यूआन) खर्च आएंगे। इतना ही नहीं सारा अमाउंट इलाज शुरू होने से पहले ही जमा करवाने होंगे। लेकिन, वांग के पिता के पास इतने पैसे नहीं हैं कि अपनी बेटियों का इलाज करवा सके और जो भी पैसे थे वो इन दोनों के इलाज में पहले ही खर्च हो चुके हैं। हालांकि, दोस्तों और रिश्तेदारों से मदद मिलने के बाद भी अभी तक उनके पास 18 लाख रुपए (200,000 यूआन) ही जमा हो सके हैं। ऐसे में किसी एक का ही इलाज हो पाना संभव है। इसलिए, वांग ने अपना इलाज करवाने से इनकार कर दिया। वांग की इस दरियादिली ने पूरे देश के लोगों का दिल जीत लिया है और चारो तरफ उसी की चर्चा हो रही है। इतना ही नहीं उसका इलाज हो सके इसके लिए लोग फंड जुटाने की भी कोशिश कर रहे हैं।

तो इसीलिए फट जाती है मोबाइल की बैटरी, वैज्ञानिकों ने ढूंढा हैरान कर देने वाला कारण! 

You May Also Like

English News