ये हैं दुनिया के सबसे बड़े सपेरे सुरेश, जिन्होंने अब तक बचायी सैकड़ों किंग कोबरा की जान

दुनिया में बहुत इस प्रजातियां हैं जिनके बारे में आप जानते होंगे। उन्ही में से एक प्रजाति होती है साँपों की जो बहुत ही खतरनाक होती है। दुनिया में अगर बड़े बड़े और ज़हरीले सांप हैं तो उन्हें पकड़ने वाले भी मौजूद हैं जो छोटे से छोटे और बड़े से बड़े सांप को पकड़ लेते हैं।ये हैं दुनिया के सबसे बड़े सपेरे सुरेश, जिन्होंने अब तक बचायी सैकड़ों किंग कोबरा की जान

ऐसे बहुत लोगों के बारे में जानते होंगे तो उन्ही में से के बारे में हम आज आपको बताने जा रहे हैं। इस शख्स का नाम है, सुरेश जो अपने इस नाम के अलावा वावा सुरेश के नाम से लोकप्रिय हैं। सुरेश किंग कोबरा, कोबरा और Vipers को बचाने का काम करते हैं।

ये भी पढ़े: ‘छूकर मेरे मन को किया तूने क्या इशारा’ और किशोर कुमार की अंतिम यात्रा

ये भी पढ़े: शेख पर भड़की सलमान खान की ये एक्ट्रेस, कही ऐसी बात की मिलने लगी धमकी

इन्हे स्नेक मैन भी कहते हैं और इनका कहना है कि वह अब तक अपने परिवार और अपने शुभ चिंतकों के कारण बचे हुए हैं। सुरेश केरल की राजधानी तिरुवनंतपुरम के निवासी हैं और वो कहते हैं कि  जब वह स्कूल के बच्चे थे तो उन्होंने अपना पहला साँप पकड़ा था और जो स्नेप उन्होंने पकड़ा था वो कोबरा था जो काफी ज़हरीला था। 

ये भी पढ़े: क्या होता है? समुद्र शास्त्र- कैसे व्यक्ति, होंठों की मदद से पता चलता है इंसान का नेचर

मैं स्कूल से लौट रहा था और एक साँप से एक साँप देखा था, मैंने इसे उठाया और घर ले लिया। इसी के बाद से ये सिलसिला शुरू हो गया और सुरेश बड़े बड़े साँपों को पकड़ने लगे। वहीँ सुरेश ने सांपों का अध्ययन करने के लिए अपना जीवन समर्पित करने का फैसला किया।

ये भी पढ़े: Micromax ने लॉन्च किया डुअल रियर कैमरे वाला सबसे सस्ता स्मार्टफोन…

उसके बाद से, उन्होंने पूरे केरल की यात्रा की है, जिससे सांपों और अन्य जंगली प्राणियों को बचाने के लिए मनुष्यों के साथ संघर्ष किया। उनके परिवार ने इस काम में उनका काफी साथ दिया और समर्थन भी किया। सुरेश कहते हैं, शुरुआती दिनों में मेरी मां और भाई-बहन ने जो जोखिम उठाया था, उसका विरोध किया था। अब जब से उन्होंने महसूस किया है कि वे मुझे नहीं बदल सकते हैं, तो मेरा परिवार मेरे काम के साथ ठीक है।

 

You May Also Like

English News