मुंबई ब्रिज हादसा: शिवसेना ने रेलवे पर साधा निशाना, कहा- दर्ज हो नरसंहार का मुकदमा

मुंबई के एलफिंस्टन स्टेशन पर शुक्रवार सुबह करीब साढ़े 10 बजे भगदड़ मच गई, जिसमें अब तक 22 लोगों की मौत हो चुकी है और तीस से अधिक लोग घायल हैं. शिवसेना ने मांग की है कि इस हादसे के लिए रेल मंत्रालय पर गैर इरादतन हत्या का मुकदमा दर्ज होना चाहिए. शिवसेना सांसद संजय राउत ने कहा है कि सरकार और रेल मंत्रालय के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर मुकदमा चलना चाहिए. मुंबई ब्रिज हादसा: शिवसेना ने रेलवे पर साधा निशाना, कहा- दर्ज हो नरसंहार का मुकदमाRSS मुख्यालय में शस्त्र पूजन आज, बाबा निर्मलादास मुख्य अतिथि‍, आडवाणी भी आमंत्रित

पीएम मोदी ने जताया हादसे पर जताया दुख

वहीं महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री अशोक चव्हाण ने कहा कि ऐसी घटनाओं की वजह से सरकार बदनाम हो चुकी है, लोग बहुत परेशान हैं. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हादसे पर दुख जताते हुए ट्वीट किया कि रेलमंत्री पीयूष गोयल इस हादसे पर नजर रखे हुए हैं. 

ब्रिज पर जगह की कमी से भी इंकार

रेल राज्य मंत्री मनोज सिन्हा ने रेलवे को क्लीन चिट देते हुआ कहा है कि रेलवे का पुल दुरुस्त था, लेकिन अफवाह से भगदड़ मची और लोगों की जान गई. सिन्हा ने ब्रिज पर जगह की कमी से भी इंकार किया है. जबकि शिवसेना ने दो साल पहले रेल मंत्री को पत्र लिखकर ब्रिज को चौड़ा करने की मांग रखी थी, लेकिन तत्कालीन रेल मंत्री ने फंड ना होने की बात कही थी. 

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने ट्वीट कर कहा कि इस हादसे वे बेहद दुखी हैं और पीड़ित परिवारों के साथ उनकी संवेदना है. 

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने भी मुंबई हादसे पर दुख जताते हुए घायलों के जल्द ठीक होने की प्रार्थना की है.

रेलमंत्री के खिलाफ आक्रोश

इस हादसे के बाद रेल मंत्री पीयूष गोयल के खिलाफ गुस्से की लहर दौड़ गई है. अस्पताल के बाहर घायलों के रिश्तेदारों और शिवसेना कार्यकर्ताओं ने जमकर हंगामा किया.

 

You May Also Like

English News