#मुजफ्फरनगर हादसे का बड़ा खुलासा: 3 दिन पहले से टूटा पड़ा था दूसरा ट्रैक, तो अब तक क्या सो रहा रेलवे

मुजफ्फरनगर ट्रेन हादसे के बाद सामने आये गेटमैन के ऑडियो ने केस में नया मोड़ ला दिया है. इस ऑडियो में गेटमैन खुलासा कर रहा है कि खतौली में रेल पटरी रेलवे कर्मचारियों ने ही काटी थी, मगर ट्रेन आने से पहले वो उसे जोड़ नहीं पाए. यही वजह रही कि इतना बड़ा हादसा हो गया.मुजफ्फरनगर ट्रेन हादसे के बाद सामने आये गेटमैन के ऑडियो ने केस में नया मोड़ ला दिया है. इस ऑडियो में गेटमैन खुलासा कर रहा है कि खतौली में रेल पटरी रेलवे कर्मचारियों ने ही काटी थी, मगर ट्रेन आने से पहले वो उसे जोड़ नहीं पाए. यही वजह रही कि इतना बड़ा हादसा हो गया.  इसी ऑडियो क्लिप में आगे गेटमैन ने एक और बड़ा खुलासा किया है. गेटमैन ने बताया है कि शनिवार रात हुए हादसे से दो दिन पहले भी इस तरीके का मामला सामने आया था. गेटमैन के मुताबिक, घटनास्थल से कुछ दूरी पर ही 2 दिन पहले ही एक दूसरी पटरी टूटी हुई मिली थी. गेटमैन का कहना है कि तीन दिन तक उस तरफ कोई नहीं गया. गेटमैन के मुताबिक, इस लाइन के 2 स्लीपर भी टूटे हुए मिले थे, जिससे अंदाजा लगाया जा सकता है कि वो पटरी काफी पहले टूट गई होगी. बावजूद इसके किसी ने उसकी सुध नहीं ली. हालांकि, ये गनीमत रही कि वहां से ट्रेन गुजरती रहीं और किसी हादसे का शिकार नहीं हुईं. गेटमैन ने बताया कि इस मामले में जेई को दिल्ली भी तलब किया गया था.  गेटमैन ने अपनी बातचीत में ये भी कहा है कि दो दिन पहले ऐसा ही हादसा सामने आने के बावजूद कोई मुस्तैदी नहीं दिखाई गई, जिस वजह से खतौली में ट्रेन हादसा हुआ.  बता दें कि शनिवार शाम हुए इस हादसे में 20 लोगों की मौत हो गई थी. जबकि करीब 150 लोग घायल बताए जा रहे हैं.

#सावधान: अब GST रिटर्न भरते समय भूल कर भी न करें ये गलती, नहीं तो जाना पड़ सकेगा जेल…

इसी ऑडियो क्लिप में आगे गेटमैन ने एक और बड़ा खुलासा किया है. गेटमैन ने बताया है कि शनिवार रात हुए हादसे से दो दिन पहले भी इस तरीके का मामला सामने आया था. गेटमैन के मुताबिक, घटनास्थल से कुछ दूरी पर ही 2 दिन पहले ही एक दूसरी पटरी टूटी हुई मिली थी. गेटमैन का कहना है कि तीन दिन तक उस तरफ कोई नहीं गया. गेटमैन के मुताबिक, इस लाइन के 2 स्लीपर भी टूटे हुए मिले थे, जिससे अंदाजा लगाया जा सकता है कि वो पटरी काफी पहले टूट गई होगी. बावजूद इसके किसी ने उसकी सुध नहीं ली. हालांकि, ये गनीमत रही कि वहां से ट्रेन गुजरती रहीं और किसी हादसे का शिकार नहीं हुईं. गेटमैन ने बताया कि इस मामले में जेई को दिल्ली भी तलब किया गया था.

लापरवाही, हादसा या साजिश : जानिए मुजफ्फरनगर ट्रेन हादसे की पूरी जानकारी…

गेटमैन ने अपनी बातचीत में ये भी कहा है कि दो दिन पहले ऐसा ही हादसा सामने आने के बावजूद कोई मुस्तैदी नहीं दिखाई गई, जिस वजह से खतौली में ट्रेन हादसा हुआ.

बता दें कि शनिवार शाम हुए इस हादसे में 20 लोगों की मौत हो गई थी. जबकि करीब 150 लोग घायल बताए जा रहे हैं.

You May Also Like

English News