मुलायम सिंह ने कहा- महिलाओं को मिले 5 लाख रुपए जमा कराने की सुविधा

नई दिल्ली: बीएसपी सुप्रीमो मायावती के बाद अब समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष मुलायम सिंह यादव ने भी नोट बैन को लेकर मोदी सरकार पर निशाना साधा है।

मुलायम सिंह ने कहा- महिलाओं को मिले 5 लाख रुपए जमा कराने की सुविधा
मुलायम ने कहा कि वह कालेधन के खिलाफ हैं, लेकिन सरकार ने यह फैसला गरीब लोगों को परेशान करने के लिए किया है। उन्होंने मांग की कि नोट बैन पर लगा प्रतिबंध कम से कम सात दिन के लिए टाल दिया जाए। मुलायम ने सरकार से यह भी दरख्वास्त की कि हर महिला को बिना किसी कानूनी कार्रवाई के पांच लाख रुपए तक जमा करवाने की सहूलियत मिले। मुलायम सरकार के इस फैसले से इतने नाराज थे कि उन्होंने वर्तमान हालात की तुलना इमर्जेंसी से कर दी।
मुलायम सिंह यादव ने गुरुवार को लखनऊ में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस की। मुलायम ने कहा कि सरकार का यह कदम देश की गरीब जनता को परेशान करने के लिए है। उन्होंने दावा किया कि समाजवादी पार्टी ने कालेधन के खिलाफ लंबी लड़ाई लड़ी है और उनकी पार्टी चाहती है कि चुनाव में कालेधन का इस्तेमाल न हो। मुलायम ने कहा, ‘बीजेपी को सिर्फ चुनाव दिख रहा है। देश नहीं दिख रहा। उसे आम जनता और गरीब जनता दिखनी चाहिए। हमारी मांग है कि जो घोषणा की गई है, उसे थोड़ी देर के रोक दी जाने चाहिए। आम जनता को मौका दिया जाना चाहिए।…कम से कम एक हफ्ते का वक्त दिया जाना चाहिए।’ मुलायम ने कहा कि तयशुदा वक्त के बाद सरकार दोबारा से कार्रवाई करे। इस मुहिम में पार्टी केंद्र सरकार के साथ है।
 
‘शादियां करने में हो रही दिक्कत’
मुलायम के मुताबिक, बीजेपी ने पहले विदेश से कालाधन लाने का वादा किया। पार्टी वादा पूरा नहीं कर पाई। इसलिए दबाव पड़ने पर उसने इस तरह की घोषणा कर दी है। मुलायम ने आरोप लगाया कि कालधन लाने के बजाए देश में अराजकता फैला दी गई है। जिन लोगों के पास कालाधन है, उनकी रकम विदेश में जमा है। उन पर बरसों से कोई कार्रवाई नहीं हुई। मुलायम के मुताबिक, 500 और 1000 रुपए के नोट बंद किए जाने से लोगों को शादियां करने में दिक्कत हो रही है। एसपी सुप्रीमो ने कहा कि जहां फैसले से पहले सोना सस्ता था, वहीं बाद में 45 हजार रुपए प्रति दस ग्राम के हिसाब से बिकने लगा। इसके अलावा चांदी भी महंगी हो गई। मुलायम ने कहा, ‘एक हजार और पांच सौ रुपए के नोट जलाए जा रहे हैं। यह एक गंभीर स्थिति है।’
महिलाओं के लिए खास डिमांड
उन्होंने कहा, ‘आम जनता को अपनी जरूरत का सामान नहीं मिल रहा। बाजार बंद है। देश की जनता तनाव में है।…अस्पताल में लाइनें लगी हैं। ऑपरेशन नहीं हो रहे, दवाइयां नहीं मिल रही।’ महिलाओं की समस्या का जिक्र करते हुए मुलायम ने कहा कि हिंदुस्तान की करोड़ों महिलाओं अपने पतियों से छिपाकर पाई पाई जोड़कर अपना भविष्य सुरक्षित करने की कोशिश करती हैं। सरकार के इस फैसले से इन महिलाओं की जमा पूंजी खतरे में पड़ गई है। मुलायम ने सरकार से मांग कि कि हर महिला को पांच लाख रुपए जमा करने की मंजूरी दी जाए। साथ में उस पर कोई कार्रवाई भी नहीं होनी चाहिए। 
‘व्यापार बंद होगा तो किसान करेंगे आत्महत्या’
मुलायम ने कहा, ‘जब व्यापार बंद हो जाएगा तो किसान आतमहत्या के लिए मजबूर हो जाएगा। किसान पैदा करता है, व्यापारी खरीदता है। किसान और व्यापारी दोनों भाई हैं। मोदी साहब के इस कदम ने अविश्वास पैदा कर दिया है। जब कोई व्यापारी रकम देने की स्थिति में नहीं होगा। व्यापार बंद होगा और अर्थव्यवस्था बर्बाद हो जाएगी। सरकार ने देश को कुछ बड़े घरानों के हाथ में गिरवी रख रखा है। इस कदम से बेकारी बढ़ जाएगी।..मजदूर अपनी रोटी रोजी खो देंगे।’ मुलायम के मुताबिक, बेरोजगारी बढ़ेगी तो कानून व्यवस्था खराब होगी। लोगो के पास पैसा होते ही दो वक्त की रोटी नहीं खरीद पाएंगे तो भयंकर हालात पैदा हो जाएंगे।
गठबंधन नहीं करेगी एसपी: मुलायम
मुलायम सिंह ने एक और अहम ऐलान इस प्रेस कॉन्फ्रेंस में किया। उन्होंने कहा कि वह यूपी चुनाव में किसी से गठबंधन करने नहीं जा रहे। हालांकि, जो भी दल विलय करना चाहते हैं, वे कर सकते हैं।
 

You May Also Like

English News