अभी अभी: तीन-तलाक को लेकर पीएम मोदी ने दिया अबतक का सबसे बड़ा बयांन…

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक के दूसरे दिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने तीन तलाक को लेकर बड़ा बयान दिया। उन्होंने कहा, हम नहीं चाहते कि तीन तलाक के मुद्दे पर मुस्लिम समाज में टकराव हो। हमारी मुस्लिम बहनों को भी न्याय मिलना चाहिए। किसी का शोषण नहीं होना चाहिए।

यहाँ भी पढ़े- अभी अभी: बूचड़खानों को लेकर हुआ सबसे बड़ा खुलासा, सच्चाई जानकर सीएम योगी भी हैरान…तीन तलाकपीएम ने कहा कि तीन तलाक के मुद्दे पर मुस्लिम महिलाएं मुश्किलों को सामना कर रही हैं। हमें जिले स्तर पर तीन तलाक के मामलों का समाधान निकालना चाहिए। उन्होंने कहा कि वह केवल सामाजिक न्याय की बात कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि हमारी मुस्लिम बहनों को न्याय मिलना चाहिए। उनके साथ अन्याय नहीं होना चाहिए। किसी का शोषण नहीं होना चाहिए।

यहाँ भी पढ़े- अभी अभी: बंद होंगे मस्जिदों की अजान से भोपूं, नही चलेगी गुंडागर्दी

नितिन गडकरी ने मोदी के हवाले से कहा

 

केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने मोदी के हवाले से कहा, “जहां तक सामाजिक न्याय का सवाल है, हमारी मुस्लिम बहनों को भी न्याय मिलना चाहिए। उनके साथ अन्याय नहीं होना चाहिए। किसी का शोषण नहीं किया जाना चाहिए।” गडकरी के अनुसार, मोदी ने कहा, “हम समाज में विवाद न पैदा करें। हम इस मुद्दे पर मुस्लिम समाज में विवाद पैदा नहीं करना चाहते।
हमें इस तरह की बुरी परंपराओं को समाज में जागरूकता लाकर समाप्त करने की जरूरत है।” सूत्रों ने कहा कि मोदी ने पार्टी नेताओं और कार्यकर्ताओं से कहा कि वे पिछड़े मुसलमानों और महिलाओं पर जिला स्तर पर सम्मेलन आयोजित करें। गडकरी ने कहा कि मोदी ने अपने भाषण में भारत में सामाजिक और आर्थिक गैरबराबरी समाप्त करने की भी अपनी इच्छा जाहिर की।

मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड ने क्या कहा

उधर, मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड ने लखनऊ बैठक के बाद साफ कहा है कि मुस्लिमों को अपने पर्सनल लॉ का पालन करने का ‘संवैधानिक’ हक है और तीन तलाक उसका हिस्सा है। हालांकि बोर्ड ने शरिया (इस्लामी कानून) के खिलाफ तलाक देने वालों का सामाजिक बहिष्कार करने का फरमान भी जारी किया।

You May Also Like

English News