मृतक लडक़ी की आत्मा ने पड़ोसियों से कहा ‘मुझे यहां दफ़नाया गया है, बाहर निकालो’

पडोसि इस हद तक परेशान हो गए की उन्हें पुलिस का सहारा लेना ही पड़ा, सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची और कमरे को खुलवाकर उसकी खुदाई कराई, जिसमें लडक़ी का नरकंकाल निकला।

यहां मात्र 10 रुपये के स्‍टाम्‍प पेपर पर बिकती हैं लड़कियां

आप भले ही इसे सच न माने पर ऐसा हुआ है। मामला फरीदाबाद के संतोष नगर का है। एक नाबालिग लडक़ी का नरकंकाल उसके घर से बरामद हुआ है। डेढ़ साल पहले मौत को गले लगाने वाली लडक़ी को उसके परिजनों ने घर के अंदर ही कब्र खोदकर दफ्न कर दिया था।

 मृतक लडक़ी का साया पिछले डेढ़ साल से पडोसियों को डरा रहा था..

खबरों की माने तो, इस लडक़ी को उसके परिजनों ने करीब डेढ़ साल पहले घर में ही दफना दिया था। हैरान करने वाली बात यह है कि इस बात की शिकायत पडोसियों ने इतना वक्त बीत जाने के बाद पुलिस से की। पड़ोसियों का कहना है कि मृतक लडक़ी का साया पिछले डेढ़ साल से उन्हें डरा रहा था। 

मृतक लड़की का साया पड़ोसियों से कहता था..

‘मुझे घर के अंदर ही मेरे मां बाप ने दफना दिया है, मुझे बाहर निकालो।’ पडोसि इस हद तक परेशान हो गए की उन्हें पुलिस का सहारा लेना ही पड़ा, सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची और कमरे को खुलवाकर उसकी खुदाई कराई, जिसमें लडक़ी का नरकंकाल निकला। पुलिस ने इस नरकंकाल को पोस्टमार्टम के लिए अस्पताल भेज दिया।

पुलिस के मुताबिक…

लडक़ी ने 14 जुलाई 2015 को घर में ही सुसाइड कर लिया था। शुरुआती जांच में मामला सुसाइड का लग रहा है। अब सवाल यह है की, अगर मामला आत्महत्या का था तो घरवालों ने लडक़ी के शव को घर में ही दफ्न क्यों कर दिया। इसकी सूचना तब पुलिस को क्यों नहीं दी गई?  पुलिस मामले की छानबीन कर रही है।

You May Also Like

English News