मेघालय में बनेगी बीजेपी-एनपीपी सहयोगियों की सरकार, क्या कांग्रेस रह गई खाली हाथ!

मेघालय में 19 सीटों पर जीत हासिल करने वाली नेशनल पीपल पार्टी ने सरकार बनाने का दावा किया है. एनपीपी के नेता कोनराड संगमा ने कहा कि हम सहयोगियों के साथ मिलकर सरकार बनाने जा रहे हैं.

बीजेपी के सूत्रों के मुताबिक पार्टी मेघालय में सरकार बनाने को लेकर आश्वस्त है. अब सभी की निगाहें पूर्व सीएम दोनकुपर रॉय के घर चल रही यूनाइटेड डेमोक्रेटिक पार्टी (यूडीपी) की बैठक पर टिकी हैं. हालांकि, यूडीपी के एक विधायक ने आजतक से बातचीत में बीजेपी और एनपीपी वाले गठबंधन को अपना समर्थन देने की बात कही है.

इधर, बीजेपी के वरिष्ठ नेता किरण रिजिजू, केजे अल्फोंस और हेमंत विश्व शर्मा समेत बीजेपी मेघालय के सभी विधायक यूडीपी नेताओं से मिलने के लिए दोनकुपर के घर पहुंच गए हैं. वहीं, कांग्रेस नेता मुकुल संगमा यूडीपी मुख्यालय पहुंचे हैं.

जानकारी के मुताबिक, मेघालय के पूर्व सीएम और यूडीपी नेता दोनकुपर रॉय ने भाजपा को समर्थन देने का संकेत दिया है. हालांकि, औपचारिक फैसले के लिए दोनकुपर और उनके विधायकों के बीच चल रही बैठक के खत्म होने का इंतजार है.

मुकुल संगमा ने मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे दिया है. उन्होंने शिलांग में राज्यपाल गंगा प्रसाद को अपना इस्तीफा सौंपा है.

यूडीपी ने दिया समर्थन तो बनेगी सरकार

अगर यूडीपी बीजेपी को अपना समर्थन देती है तो भाजपा चार पार्टियों और एक निर्दलीय विधायक के साथ सरकार बना लेगी. ऐसे में उसके पास बहुमत से तीन ज्यादा 34 सीटें हो जाएंगी. बीजेपी के साथ इस गठबंधन की सरकार में यूडीपी के 6 विधायकों के अलावा एनपीपी के 19 विधायक, पीडीएफ के 4 विधायक, एचएसपीडीपी के 2 विधायक और एक निर्दलीय विधायक शामिल होंगे.

किरण रिजिजू ने कहा कि मेघालय में बीजेपी नॉन कांग्रेस गठबंधन की सरकार को अपना समर्थन देगी. उन्होंने कहा कि हमने यूडीपी से बात की है और बताया कि सूबे के लोगों ने कांग्रेस के खिलाफ वोटिंग की है. उन्होंने कहा कि प्रदेश में बीजेपी के पास पूर्ण बहुमत नहीं है, ऐसे में वो कांग्रेस के खिलाफ तैयार हो रहे गठबंधन को अपना समर्थन करेगी.

60 सदस्यीय विधानसभा में कांग्रेस के खाते में 21, एनपीपी के खाते में 19 और भाजपा के खाते में दो सीटें आयी हैं. वहीं, यूनाईटेड डेमोक्रेटिक पार्टी के छह विधायक और पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी के दो विधायक चुने गये हैं. राकांपा और खुन हनीट्रैप नेशनल अवेकिंग मूवमेंट के खाते में एक-एक सीट आयी है. इसके अलावा तीन निर्दलीय विधायक भी चुनाव जीते हैं.

You May Also Like

English News