#FifaWorldCup2018: मेजबान रूस ने मिस्र को दी करारी मात,दर्ज की अपनी दूसरी जीत!

सेंट पीटर्सबर्ग: मेजबान रूस ने दूसरे हाफ में 15 मिनट के भीतर 3 गोल करके मिस्र को 3-1 से हराकर फीफा विश्व कप के नॉकआउट चरण में प्रवेश की दहलीज पर पहुंच गया। मिस्र के स्टार स्ट्राइकर मोहम्मद सलाह ने चोट से उबरने के बाद मैदान पर वापसी की और पेनल्टी पर गोल भी दागा लेकिन 28 साल बाद पहला विश्व कप खेल रहे मिस्र को लगातार दो हार के बाद अब वापसी का टिकट कटाना पड़ सकता है।


अहमद फातही ने आत्मघाती गोल दागकर 47वें मिनट में रूस को बढत दिला दी। यह इस टूर्नमेंट का 5वां आत्मघाती गोल रहा। इसके बाद डेनिस चेरिशेव और आर्तियोम ज्युबा ने लगातार गोल दागकर रूस को 3-0 की बढ़त दिला दी। इससे पहले रूस ने शुरुआती मैच में सऊदी अरब को 5-0 से हराया था।

चेरिशेव का यह इस विश्व कप में तीसरा गोल रहा और सर्वाधिक गोल करने वालों की सूची में वह क्रिस्टियानो रोनाल्डो के साथ शीर्ष पर आ गए हैं। उरूग्वे की टीम अगर सऊदी अरब को हराती है या ड्रॉ खेलती है तो रूस अंतिम 16 में पहुंच जाएगा। ऐसे में मिस्र बाहर हो जाएगा जिसे पहले मैच में उरूग्वे ने 1-0 से हराया था। मिस्र के लिए सलाह ने 73वें मिनट में पेनल्टी पर गोल किया।

पिछले महीने चैंपियंस लीग फाइनल में कंधे की चोट से जूझने वाले सलाह का यह पहला मैच था और मिस्र का 28 साल में विश्व कप में पहला गोल भी था। इससे पहले विलारीयाल के विंगर चेरिशेव ने 59वें मिनट में मारियो फर्नांडिस के क्रास पर गोल करके रूस की बढत दुगुनी कर दी थी।

3 मिनट बाद ज्युबा ने गेंद को अपनी छाती पर रोकते हुए अली गबर को छकाकर तीसरा गोल दागा। रूस को पहली कामयाबी मिस्र के कप्तान अहमद फातही के आत्मघाती गोल से मिली। रोमन जोबनिन के पास को लपकने के प्रयास में वह चूके और गेंद उनके घुटने से टकराकर गोलकीपर मोहम्मद एल्शिनावे को चकमा देते हुए गोल के भीतर चली गई। इससे पहले हाफ टाइम तक दोनों टीमें गोल रहित बराबरी पर थी।

You May Also Like

English News