मेसी, रोनाल्डो, नेमार जैसे स्टार खिलाड़ियों पर लग सकता है बैन

रूस की धरती पर खेले जा रहे फीफा वर्ल्ड कप में ग्रुप स्टेज मुकाबले खत्म हो चुके हैं और आज से प्री-क्वार्टर राउंड की शुरुआत होने जा रही हैं. वर्ल्ड कप जीतने की बड़ी दावेदारों टीमों को खिताब पाने के लिए अभी काफी लंबा रास्ता तय करना है. लेकिन उससे पहले उनके स्टार खिलाड़ियों पर निलंबन की तलवार लटकने लगी है. इन खिलाड़ियों में अर्जेटीना के लियोनल मेसी, पुर्तगाल के क्रिस्टियानो रोनाल्डो और ब्राजील के नेमार भी शामिल हैं.रूस की धरती पर खेले जा रहे फीफा वर्ल्ड कप में ग्रुप स्टेज मुकाबले खत्म हो चुके हैं और आज से प्री-क्वार्टर राउंड की शुरुआत होने जा रही हैं. वर्ल्ड कप जीतने की बड़ी दावेदारों टीमों को खिताब पाने के लिए अभी काफी लंबा रास्ता तय करना है. लेकिन उससे पहले उनके स्टार खिलाड़ियों पर निलंबन की तलवार लटकने लगी है. इन खिलाड़ियों में अर्जेटीना के लियोनल मेसी, पुर्तगाल के क्रिस्टियानो रोनाल्डो और ब्राजील के नेमार भी शामिल हैं.   टूर्नामेंट का नियम यह कहता है कि क्वार्टर फाइनल से पहले यदि किसी खिलाड़ी को दो येलो कार्ड दिखाया जाता है तो उन्हें अगले एक मैच के लिए निलंबित कर दिया जाएगा. अगर खिलाड़ी को क्वार्टर फाइनल मुकाबले में येलो कार्ड मिलता है तो उसके सेमीफाइनल खेलने पर बैन लग सकता है.   इसका मतलब है कि कोई भी खिलाड़ी निलंबन की लटकती तलवार के साथ सेमीफाइनल में नहीं जाना चाहेगा, जो उन्हें फाइनल से बाहर करा दे. कुछ बड़े खिलाड़ियों पर क्वार्टर फाइनल या सेमीफाइनल में बैन लगने का खतरा बना हुआ है.   स्टार खिलाड़ियों को ग्रुप स्टेज में मिला है येलो कार्ड   अर्जेटीना के स्टार खिलाड़ी लियोनल मेसी भी इस लिस्ट में शामिल हैं. मेसी को ग्रुप स्टेज में नाइजीरिया के खिलाफ आखिरी मिनटों में समय बर्बाद करने को लेकर येलो कार्ड दिखाया गया था. मेसी के अलावा अर्जेटीना के पांच और खिलाड़ियों को येलो कार्ड मिल चुका है.   मेसी को अब अगर नॉकआउट में फ्रांस के खिलाफ भी येलो कार्ड मिलता है तो उन्हें क्वार्टर फाइनल में पुर्तगाल के खिलाफ बाहर बैठना पड़ सकता है. हालांकि ऐसा तभी होगा जब दोनों टीमें अगले दौर में पहुंचती हैं.   इस लिस्ट में दूसरा नाम पुर्तगाल के करिश्माई फुटबालर क्रिस्टियानो रोनाल्डो का है. रोनाल्डो को ईरान के डिफेंडर को कोहनी मारने के लिए येलो कार्ड दिया गया था. हालांकि रोनाल्डो टीम के एकमात्र खिलाड़ी नहीं हैं, जिन्हें शनिवार को उरुग्वे के खिलाफ चौंकन्ना रहना होगा, बल्कि उनके पांच टीम साथी भी ग्रुप चरण में रेफरी द्वारा बुक किए जा चुके हैं.   मेसी और रोनाल्डो के बाद ब्राजील की तिकड़ी-नेमार, फिलिप कॉटिन्हो और कैसीमिरो पर भी निलंबन की तलवार लटक रही है. इन खिलाड़ियों को निलंबन से बचे रहने के लिए दो जुलाई को समारा में मेक्सिको के खिलाफ होने वाले नॉकआउट मैच में रेफरी की नजर से बच के रहना होगा. अन्य टीमों में इंग्लैंड के काइल वाल्कर और रूबेन लोफ्तस, बेल्जियम के जान वेर्टोंघन, थॉस मुनियर और केविन डी ब्रूयन को भी सतर्क रहने की जरूरत है. स्पेन के खिलाड़ी सर्जियो बुस्केटस को भी येलो कार्ड मिल चुका है.रूस की धरती पर खेले जा रहे फीफा वर्ल्ड कप में ग्रुप स्टेज मुकाबले खत्म हो चुके हैं और आज से प्री-क्वार्टर राउंड की शुरुआत होने जा रही हैं. वर्ल्ड कप जीतने की बड़ी दावेदारों टीमों को खिताब पाने के लिए अभी काफी लंबा रास्ता तय करना है. लेकिन उससे पहले उनके स्टार खिलाड़ियों पर निलंबन की तलवार लटकने लगी है. इन खिलाड़ियों में अर्जेटीना के लियोनल मेसी, पुर्तगाल के क्रिस्टियानो रोनाल्डो और ब्राजील के नेमार भी शामिल हैं.   टूर्नामेंट का नियम यह कहता है कि क्वार्टर फाइनल से पहले यदि किसी खिलाड़ी को दो येलो कार्ड दिखाया जाता है तो उन्हें अगले एक मैच के लिए निलंबित कर दिया जाएगा. अगर खिलाड़ी को क्वार्टर फाइनल मुकाबले में येलो कार्ड मिलता है तो उसके सेमीफाइनल खेलने पर बैन लग सकता है.   इसका मतलब है कि कोई भी खिलाड़ी निलंबन की लटकती तलवार के साथ सेमीफाइनल में नहीं जाना चाहेगा, जो उन्हें फाइनल से बाहर करा दे. कुछ बड़े खिलाड़ियों पर क्वार्टर फाइनल या सेमीफाइनल में बैन लगने का खतरा बना हुआ है.   स्टार खिलाड़ियों को ग्रुप स्टेज में मिला है येलो कार्ड   अर्जेटीना के स्टार खिलाड़ी लियोनल मेसी भी इस लिस्ट में शामिल हैं. मेसी को ग्रुप स्टेज में नाइजीरिया के खिलाफ आखिरी मिनटों में समय बर्बाद करने को लेकर येलो कार्ड दिखाया गया था. मेसी के अलावा अर्जेटीना के पांच और खिलाड़ियों को येलो कार्ड मिल चुका है.   मेसी को अब अगर नॉकआउट में फ्रांस के खिलाफ भी येलो कार्ड मिलता है तो उन्हें क्वार्टर फाइनल में पुर्तगाल के खिलाफ बाहर बैठना पड़ सकता है. हालांकि ऐसा तभी होगा जब दोनों टीमें अगले दौर में पहुंचती हैं.   इस लिस्ट में दूसरा नाम पुर्तगाल के करिश्माई फुटबालर क्रिस्टियानो रोनाल्डो का है. रोनाल्डो को ईरान के डिफेंडर को कोहनी मारने के लिए येलो कार्ड दिया गया था. हालांकि रोनाल्डो टीम के एकमात्र खिलाड़ी नहीं हैं, जिन्हें शनिवार को उरुग्वे के खिलाफ चौंकन्ना रहना होगा, बल्कि उनके पांच टीम साथी भी ग्रुप चरण में रेफरी द्वारा बुक किए जा चुके हैं.   मेसी और रोनाल्डो के बाद ब्राजील की तिकड़ी-नेमार, फिलिप कॉटिन्हो और कैसीमिरो पर भी निलंबन की तलवार लटक रही है. इन खिलाड़ियों को निलंबन से बचे रहने के लिए दो जुलाई को समारा में मेक्सिको के खिलाफ होने वाले नॉकआउट मैच में रेफरी की नजर से बच के रहना होगा. अन्य टीमों में इंग्लैंड के काइल वाल्कर और रूबेन लोफ्तस, बेल्जियम के जान वेर्टोंघन, थॉस मुनियर और केविन डी ब्रूयन को भी सतर्क रहने की जरूरत है. स्पेन के खिलाड़ी सर्जियो बुस्केटस को भी येलो कार्ड मिल चुका है.

टूर्नामेंट का नियम यह कहता है कि क्वार्टर फाइनल से पहले यदि किसी खिलाड़ी को दो येलो कार्ड दिखाया जाता है तो उन्हें अगले एक मैच के लिए निलंबित कर दिया जाएगा. अगर खिलाड़ी को क्वार्टर फाइनल मुकाबले में येलो कार्ड मिलता है तो उसके सेमीफाइनल खेलने पर बैन लग सकता है.

इसका मतलब है कि कोई भी खिलाड़ी निलंबन की लटकती तलवार के साथ सेमीफाइनल में नहीं जाना चाहेगा, जो उन्हें फाइनल से बाहर करा दे. कुछ बड़े खिलाड़ियों पर क्वार्टर फाइनल या सेमीफाइनल में बैन लगने का खतरा बना हुआ है.

स्टार खिलाड़ियों को ग्रुप स्टेज में मिला है येलो कार्ड

अर्जेटीना के स्टार खिलाड़ी लियोनल मेसी भी इस लिस्ट में शामिल हैं. मेसी को ग्रुप स्टेज में नाइजीरिया के खिलाफ आखिरी मिनटों में समय बर्बाद करने को लेकर येलो कार्ड दिखाया गया था. मेसी के अलावा अर्जेटीना के पांच और खिलाड़ियों को येलो कार्ड मिल चुका है.

मेसी को अब अगर नॉकआउट में फ्रांस के खिलाफ भी येलो कार्ड मिलता है तो उन्हें क्वार्टर फाइनल में पुर्तगाल के खिलाफ बाहर बैठना पड़ सकता है. हालांकि ऐसा तभी होगा जब दोनों टीमें अगले दौर में पहुंचती हैं.

इस लिस्ट में दूसरा नाम पुर्तगाल के करिश्माई फुटबालर क्रिस्टियानो रोनाल्डो का है. रोनाल्डो को ईरान के डिफेंडर को कोहनी मारने के लिए येलो कार्ड दिया गया था. हालांकि रोनाल्डो टीम के एकमात्र खिलाड़ी नहीं हैं, जिन्हें शनिवार को उरुग्वे के खिलाफ चौंकन्ना रहना होगा, बल्कि उनके पांच टीम साथी भी ग्रुप चरण में रेफरी द्वारा बुक किए जा चुके हैं.

मेसी और रोनाल्डो के बाद ब्राजील की तिकड़ी-नेमार, फिलिप कॉटिन्हो और कैसीमिरो पर भी निलंबन की तलवार लटक रही है. इन खिलाड़ियों को निलंबन से बचे रहने के लिए दो जुलाई को समारा में मेक्सिको के खिलाफ होने वाले नॉकआउट मैच में रेफरी की नजर से बच के रहना होगा. अन्य टीमों में इंग्लैंड के काइल वाल्कर और रूबेन लोफ्तस, बेल्जियम के जान वेर्टोंघन, थॉस मुनियर और केविन डी ब्रूयन को भी सतर्क रहने की जरूरत है. स्पेन के खिलाड़ी सर्जियो बुस्केटस को भी येलो कार्ड मिल चुका है.

 

You May Also Like

English News