मैकेनिक बन ठगों ने ट्रक चालक से ऐंठे 5 हजार रुपये

  • ट्रक चालक की होशियारी से एक ठग पकड़ा गया
  • आरोपी के दो साथी अभी हैं फरार

rupeeलखनऊ  कन्नौज से आलू लाद कर ले जा रहे एक ट्रक चालक से तीन ठग मैकेनिक बनकर 5 हजार रुपये ठग ले गये। इत्तिफाक की बात यह रही कि ट्रक चालक ने जालसाजों की बाइक का नम्बर नोट कर लिया था। बाइक नम्बर की मदद से पुलिस ने एक ठग को गिरफ्तार कर लिया है, जबकि उसके दो साथी अभी फरार हैं। बिहार निवासी अनिल पासवान ट्रक चालक है। बताया जाता है कि मंगलवार को वह कन्नौज जनपद से आलू लादकर भागलपुर जा रहा था। ट्रक जब बंथरा के हरौनी चौकी के पास पहुंचा तो एक बाइक सवार तीन युवकों ने उसको रोक लिया। बाइक सवार दो युवकों ने खुद को ट्रक का मैकेनिक बताया और चालक से उनको कुछ दूर आग छोडऩे की बात कही। ट्रक चालक ने दोनों युवकोंं को ट्रक में बैठा लिया, जबकि उनका एक साथी बाइक लेकर वहां से चला गया। ट्रक चालक कुछ दूर ट्रक लेकर चला कि ट्रक में सवार दोनों युवकों ने चुपके से उसका फ्यूल पाइन काट दिया। इस पर ट्रक अचानक रूक गया। ट्रक चालक ने दोनों युवकों को मैकेनिक समझकर ट्रक सही करने की बात कही। दोनों युवकों ने ट्रक का मुआयना किया और 20 से 22 हजार रुपये का खर्च बताया। दोनों ने ट्रक चालक से 5 हजार रुपये भी ले लिया और बाकी रकम चालक से खाते में डालने की बात कही। ट्रक चालक भी दोनों को मैकेनिक समझ 5 हजार रुपये दे दिये। पांच हजार रुपये लेने के बाद दो युवक सामान खरीदने की बात कहकर वहां से गायब हो गये। दोनों युवक जब काफी देर वापस नहीं लौटे तो ट्रक चालक ने पास में ही एक ढाबे के मालिक को इस बारे में बताया। ढाबे के मालिक ने चालक को ठगी का शिकार होने की बात बतायी और सूचना बंथरा पुलिस को दी। सूचना पर पहुंची बंथरा पुलिस ने छानबीन कर इस मामले में ट्रक चालक की तहरीर पर तीन जालसाजों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर ली। ट्रक चालक ने पुलिस को जालसाजों की बाइक का नम्बर बताया। बाइक का नम्बर हाथ लगते ही पुलिस ने एक जालसाज हरदोई निवासी नसीम को गिरफ्तार कर लिया। पूछताछ में उसने वारदात में शामिल अपने दो अन्य साथियों पप्पू व सरकार का नाम बताया। अब बंथरा पुलिस दोनों की तलाश में लगी है।

You May Also Like

English News